scorecardresearch
 

पंचायत आजतक 2021: दिनेश शर्मा बोले- यूपी का कोरोना प्रबंधन दुनिया भर में आदर्श मॉडल

Panchayat Aaj Tak Uttar Pradesh 2021: उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले आज लखनऊ में आज तक की 'चुनावी महाबैठक' हुई. पंचायत आजतक के 'फिर खिलेगा कमल!' सेशन में प्रदेश के डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा शामिल हुए.

X
पंचायत आज तक उत्तर प्रदेश 2021: दिनेश शर्मा पंचायत आज तक उत्तर प्रदेश 2021: दिनेश शर्मा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दिनेश शर्मा बोले- यूपी के मॉडल की दुनिया भर में तारीफ
  • उन्होंने कहा, कोरोना में विपक्ष ने दुष्प्रचार करने का काम किया

Panchayat Aaj Tak Uttar Pradesh 2021: उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले आज लखनऊ में आजतक की 'चुनावी महाबैठक' हुई. पंचायत आजतक के 'फिर खिलेगा कमल!' सेशन में प्रदेश के डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा शामिल हुए. 

दिनेश शर्मा ने कहा, कोरोना का संक्रमण था, अमेरिका जैसा देश में लाखों मौतें हुईं हैं. कम से कम हानि पहुंचे. हम ज्यादा से ज्यादा लोगों को बचा सकें, उसके निकट पहुंचने में हम सफल रहे. आज देश ही नहीं दुनियाभर में ये चर्चा का विषय है कि उत्तर प्रदेश का जो कोरोना मैनेजमेंट का मॉडल था, वो आदर्श था. आज भी घर-घर मेडिकल किट बंट रही हैं. आज भी 552 ऑक्सीजन प्लांट लग चुके हैं. 275 प्लांट काम करने लगे हैं.

ऑक्सीजन की कमी से मौत की खबरों पर दिनेश शर्मा ने कहा, किसी अपवाद को लेकर किसी भी प्रदेश के बारे में कोई विचार नहीं बनाने चाहिए. एक-दो अपवाद किसी व्यक्ति की गलती के कारण, किसी संस्थान की गलती के कारण होता है तो वो पूरे देश-प्रदेश का परिदृश्य नहीं हो सकता. पूरे प्रदेश में क्या हुआ, ये महत्वपूर्ण है. उन्होंने बताया कि कोरोना काल में लापरवाही बरतने पर संस्थानों के खिलाफ सबसे कठोर कार्रवाई हुई है.

विपक्ष ने दुष्प्रचार किया और हमने काम

उन्होंने कहा, जब कोरोना आया तो विपक्षी दल के नेता अपने घरों पर बैठे रहे. एसी कमरों में बैठकर ट्वीट कर रहे थे कि वैक्सीन नहीं लगवाएंगे. बीजेपी की वैक्सीन है. दुष्प्रचार का जब ये चक्र चल रहा था तो बीजेपी का कार्यकर्ता गांव-गांव, मोहल्ले-मोहल्ले जाकर लोगों की रक्षा के लिए अपने को समर्पित कर रहा था. ऐसे समय बीजेपी के सैकड़ों पदाधिकारी दिवंगत हुए. कई विधायक हमारे दिवंगत हुए. लेकिन बीजेपी ने सेवा ही संगठन के नाम से जनता का साथ नहीं छोड़ा. 

उन्होंने कहा कि जब कोरोना आया तो दुनिया आतंकित घूम रही थी तब भारत के प्रधानमंत्री ने कहा कि हम टीका स्वयं बनाएंगे और एक नहीं दो-दो टीके आ गए. विपक्ष ने दुष्प्रचार किया और हमने काम किया. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें