scorecardresearch
 

बरेली में कूड़े की गाड़ी में मिले थे पोस्टल बैलेट, हटाई गईं SDM, सपा के हंगामे के बाद एक्शन

बरेली में काउंटिंग सेंटर पर कूड़े की गाड़ी में पोस्टल बैलेट मिलने के बाद आरओ-एसडीएम पारूल तरार को हटा दिया गया है. उनकी जगह राजेंद्र चंद्र को नियुक्त किया गया है.

X
बहेड़ी की एसडीएम पारूल तरार. बहेड़ी की एसडीएम पारूल तरार.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कूड़े की गाड़ी में भरकर आए थे बैलेट पेपर
  • सपा के हंगामे के बाद SDM को हटाया गया

बरेली के बहेड़ी में कूड़े की गाड़ी में भरकर आए पोस्टल बैलेट के मामले में बड़ा एक्शन हुआ है. इस मामले में प्रशासन ने बहेड़ी की एसडीएम पारूल तरार को हटा दिया है. उनकी जगह राजेंद्र चंद्र को नियुक्त किया गया है. 

दरअसल, मंगलवार को बहेड़ी में कूड़ा गाड़ी में पोस्टल बैलेट पेपर से भरे तीन संदूकें समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने पकड़े थे. नगर पालिका की कूड़े की गाड़ी में बैलेट पेपर भरकर आए थे. इसके बाद से समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं का हंगामा जारी था.

बुधवार को भी मामला शांत न होते देख प्रशासन ने पारूल तरार को हटा दिया. पारूल तरार एसडीएम होने के साथ-साथ रिटर्निंग ऑफिसर भी थीं. उन्होंने दोनों पदों से हटा दिया गया है. उनकी जगह राजेंद्र चंद्र को जिम्मेदारी दी गई है.

इस मामले में डीएम शिवकांत द्विवेदी ने कहा था कि आरओ की गलती थी और उन्होंने चुनाव से जुड़ी सामग्री कूड़े की गाड़ी में भेज दी थी. वहीं, बहेड़ी से सपा के उम्मीदवार अताउर रहमान ने आरोप लगाया था कि काउंटिंग सेंटर में गाड़ियां अंदर जा रही हैं, जिनका कोई लेखा-जोखा नहीं है.

वाराणसी में भी गाड़ियों में मिली थीं EVM

चुनावी नतीजों से पहले EVM को लेकर हंगामा चल रहा है. इससे पहले वाराणसी में भी EVM से लदी तीन गाड़ियां जाने के बाद सपा कार्यकर्ताओं ने हंगामा किया था. अखिलेश यादव ने आरोप लगाया था कि वाराणसी में EVM से लदी तीन गाड़ियां पकड़ी गई हैं, दो गाड़ियां निकल गईं, लेकिन तीसरी को सपा के कार्यकर्ताओं ने रोक लिया. 

इसके बाद सपा ने काउंटिंग सेंटर में जैमर लगाने की मांग भी की है. वहीं, चुनाव आयोग ने जवाब देते हुए कहा कि गाड़ियों से जो EVM मिली हैं, वो ट्रेनिंग के मकसद से ले जाई जा रही थीं और उनका चुनाव में इस्तेमाल नहीं हुआ है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें