scorecardresearch
 
यूपी विधानसभा चुनाव

'योगी बैठ्या है बक्कल तार दिया करे'... किसान आंदोलन पर UP BJP के ट्वीट पर बवाल

किसान नेता राकेश टिकैत
  • 1/7

तीन कृषि कानूनों और एमएसपी की गारंटी को लेकर किसानों का आंदोलन पिछले 9 महीने से दिल्ली के अलग-अलग बॉर्डर पर जारी है. अब किसानों ने लखनऊ को घेरने का ऐलान किया है. पिछले दिनों भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) नेता राकेश टिकैत ने लखनऊ में आंदोलन करने की धमकी दी. इस पर उत्तर प्रदेश बीजेपी ने तीखी प्रतिक्रिया देते हुए एक कार्टून शेयर किया है, जिस पर अब बवाल हो रहा है.

(फाइल फोटो-किसान नेता राकेश टिकैत)

यूपी बीजेपी का ट्वीट
  • 2/7

उत्तर प्रदेश बीजेपी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से 'ओ भाई जरा संभल कर जइयो लखनऊ में...' हेडिंग से शेयर किए गए इस कार्टून में राकेश टिकैत जैसी छवि के व्यक्ति को दिखाया गया है, जिसके कंधे पर किसान आंदोलन का भार है. उनसे 'बाहुबली' लिखा शख्स कहता है- सुना लखनऊ जा रहे तुम.. किमें पंगा न लिए भाई.. योगी बैठ्या है बक्कल तार दिया करे और पोस्टर भी लगवा दिया करे. 

(फोटो- यूपी बीजेपी के ट्विटर हैंडल से किए गए ट्वीट का स्क्रीनशॉट)

बीजेपी के ट्वीट पर प्रतिक्रिया
  • 3/7

इस कार्टून पर जबरदस्त बवाल हो रहा है. एक ट्विटर यूजर ने लिखा- 'आपका क्या मतलब है, एक किसान लखनऊ या यूपी में विरोध नहीं कर सकता, "योगी बैठ्या है ज' आप लोग विरोध करने के लिए एक व्यक्ति का अधिकार लेने की कोशिश कर रहे हैं, हालांकि आप जानते हैं कि किसान बिल किसानों के पक्ष में नहीं है, ये किसान बिल सिर्फ निजी संगठनों के लिए मुनाफा कमाने के लिए हैं.'

ट्वीट पर प्रतिक्रिया
  • 4/7

यूपी बीजेपी के इस ट्वीट पर जबरदस्त बवाल हो रहा है. कई लोग इसे किसान विरोधी मानसिकता कह रहे हैं तो कई लोग इसकी तारीफ कर रहे हैं. तारीफ करने वालों का कहना है कि यूपी में योगीराज है, उत्तर प्रदेश में अराजकता फैलाने वाले और लोगों को भड़का के गुंडई करने वालों के लिए कोई स्थान नहीं है.

यूपी बीजेपी अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के साथ सीएम योगी आदित्यनाथ
  • 5/7

यूपी बीजेपी के ट्विटर हैंडल से किये गए ट्वीट पर बवाल बढ़ता जा रहा है. हालांकि बीजेपी बचाव की मुद्रा में आ गई है. भाजपा प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी की अपनी अलग ही दलील है. उनका कहना है कि यूपी में अराजकता बर्दाश्त नहीं की जाएगी, यहां योगी सरकार है, सीएए प्रदर्शन की आड़ में अराजकता फैलाने वालों का क्या हश्र हुआ, ये सबके सामने है.

(फोटो- यूपी बीजेपी अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के साथ सीएम योगी आदित्यनाथ)

अखिलेश यादव के साथ सुनील साजन
  • 6/7

वहीं, समाजवादी पार्टी के नेता सुनील सिंह साजन ने कहा कि बीजेपी ने अपने ट्विटर हैंडल से फोटो ट्वीट कर अपनी मानसिकता दर्शा दी है कि किसान नेता का किस तरीके से बाल पकड़कर खींच रहे हैं और उनकी टोपी गिर रही है, यह वही बीजेपी है जो किसानों को खालिस्तानी, पाकिस्तानी और मवाली बोलती है, यह किसानों का घोर अपमान है.

(फोटो- अखिलेश यादव के साथ सुनील साजन)

यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के साथ प्रियंका गांधी वाड्रा
  • 7/7

इस ट्वीट पर कांग्रेस हमलावर है. पार्टी के प्रवक्ता सुरेंद्र राजपूत ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी किसानों के मुद्दे पर पूरी तरीके से बेशर्मी से उतर आई है, देखिए यह लोग किस तरीके से ट्वीट कर रहे है, कभी किसानों को बवाली कहते हैं, कभी पाकिस्तानी, कभी अफगानिस्तानी तो कभी खालिस्तानी कहते हैं, ये नहीं कि किसानों के मुद्दों को सुलझाएं, इस बार बीजेपी वाले गांव में जाएं तो पता चलेगा कि कौन किसका बक्कल उतारता है.

(फोटो- यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के साथ प्रियंका गांधी वाड्रा)