scorecardresearch
 

मुलायम बोले- बिहार में BJP के पक्ष में माहौल, लालू ने 180 सीटों पर दावा ठोका

बिहार में पहले दौर के मतदान में जहां सोमवार को 57 फीसदी वोटरों ने अपने अधिकार का इस्तेमाल किया, वहीं इसके बाद सियासी जगत में दावेदारी की कवायद भी तेज हो गई है. एनडीए जहां 90 फीसदी सीटों को अपने खाते में बता रही है, वहीं लालू प्रसाद ने 180 सीटों पर दावा ठोका है.

X
लालू प्रसाद और मुलायम सिंह की फाइल फोटो लालू प्रसाद और मुलायम सिंह की फाइल फोटो

बिहार में पहले दौर के मतदान में जहां सोमवार को 57 फीसदी वोटरों ने अपने अधिकार का इस्तेमाल किया, वहीं इसके बाद सियासी जगत में दावेदारी की कवायद भी तेज हो गई है. एनडीए जहां 90 फीसदी सीटों को अपने खाते में बता रही है, वहीं लालू प्रसाद ने 180 सीटों पर दावा ठोका है.

सोमवार को जिन 49 सीटों पर चुनाव हुए, उनमें से 33 पर लालू प्रसाद और नीतीश कुमार के महागठबंधन का कब्जा है. निर्वाचन आयोग के मुताबिक, पहले चरण में हुई 57 फीसदी वोटिंग में मताधि‍कार का इस्तेमाल करने में मर्दों के मुकाबले महिलाएं आगे रहीं.

वोटिंग समाप्त होने के बाद एनडीए के घटक एलजेपी के प्रमुख रामविलास पासवान ने कहा, 'हमलोग 90 फीसदी सीटों पर जीत रहे हैं. उनका हवाबाजी निकल जाएगा. कहिए लालू-नीतीश को बोरिया-बिस्तर बांधने को.' जबकि आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद ने कहा कि महागठबंधन का राज्य की 180 सीटों पर कब्जा होगा. लालू ने कहा, 'टोटल जेतना भी वोट होगा, कम से कम 180 सीट पर हम जीतेंगे.'

बिहार में बीजेपी के पक्ष में माहौल: मुलायम
हालांकि इन सब के बीच सबसे दिलचस्प बयान सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव ने दिया है. उन्होंने कहा कि बिहार में माहौल बीजेपी के पक्ष में है. सियासत के माहिर खिलाड़ी मुलायम सिंह लोकसभा चुनाव से अब तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कामकाज पर सवाल खड़ते रहे हैं, लेकिन इन दिनों वह बीजेपी की तारीफ करते नजर आ रहे हैं.

पिछले दिनों मोदी के कामकाज को बेहतर बता चुके मुलायम ने लखनऊ में आयोजित राम मनोहर लोहिया की 49वीं पुण्यतिथि के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में कहा कि बिहार में बीजेपी के पक्ष में माहौल है. यही नहीं, उन्होंने आरक्षण के मुद्दे पर छिड़ी बहस को बिहार में बीजेपी के लिए नुकसानदेह भी बताया.

मुलायम सिंह ने कहा, 'बिहार के चुनाव में हम कल गए थे. वहां भी माहौल ऐसा है कि बीजेपी ने ही बना लिया हो अपने पक्ष में. एक आरक्षण पर सवाल उठा बेमतलब में. वरना जीत रही थी बीजेपी ही ये सही है. लोगों की उम्मीद थी जो लोगों ने मुझे बताया. लेकिन वो एक ही बयान से कि हम आरक्षण पर विचार करेंगे. इसी पर मुद्दा मिल गया वहां के लालूजी और नीतीश को. वो मुद्दा से अब जो वहां के कट्टर विरोधी हो गए थे, वो अब उतने विरोधी नहीं रहे.'

'चाहते थे सत्ता परिवर्तन हो'
कभी महागठबंधन के जरिए यूपी बिहार में मोदी लहर रोकने के लिए एक दूसरे के गले मिले मुलायम ने अपने समधी लालू को पराया कर दिया है. आलम यह है कि अब लालू प्रसाद समधी मुलायम को बिहार के विकास का रोड़ा नजर आने लगे हैं. मुलायम ने लालू-नीतीश के कामकाज पर भी सवाल खड़े किए. मुलायम ने कहा कि वो चाहते थे कि बिहार में सत्ता परिवर्तन हो, क्योंकि बिहार में लालू-नीतीश के कई वर्षों तक राज करने के बावजूद बिहार का वो विकास नहीं हो पाया, जो होना चाहिए था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें