scorecardresearch
 

महाराष्ट्र: मतदान का ‘फतवा’ न मानने पर महिला को जलाया

महाराष्ट्र के नासिक जिले के यवला कस्बे में एक महिला के साथ मारपीट की गई और फिर उसे जिंदा जला दिया गया. पुलिस ने शुक्रवार को बताया कि दो दिन पहले कथित रूप से स्थानीय स्तर पर जारी मतदान संबंधी फतवा का उल्लंघन करने पर इस घटना को अंजाम दिया गया.

महाराष्ट्र का नक्शा महाराष्ट्र का नक्शा

महाराष्ट्र के नासिक जिले के यवला कस्बे में एक महिला के साथ मारपीट की गई और फिर उसे जिंदा जला दिया गया. पुलिस ने शुक्रवार को बताया कि दो दिन पहले कथित रूप से स्थानीय स्तर पर जारी मतदान संबंधी फतवा का उल्लंघन करने पर इस घटना को अंजाम दिया गया. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि यह घटना जिले के बाबुलगांव की है, जहां 60 वर्षीय जेबुबाई बावले नजदीकी मतदान केंद्र पर मतदान करने गई थीं.

मतदान केंद्र के रास्ते में कुछ राजनीतिक कार्यकर्ताओं ने कथित रूप से उस पर उनके उम्मीदवार को वोट करने का दबाव बनाया और उस पर नजर रखी. महिला के मतदान करने के बाद कार्यकर्ताओं को किसी तरह पता चल गया कि उसने दूसरे उम्मीदवार को वोट किया है, जिससे नाराज होकर कार्यकर्ताओं ने उससे बहस की और उनके आदेश का उल्लंघन करने की वजह पूछी. बावले ने उनसे कहा कि उसकी नजर कमजोर है, और इसलिए उसने गलत बटन दबा दिया, लेकिन कार्यकर्ताओं ने उसकी बात मानने से इंकार कर दिया और उसे थप्पड़ मारा और उसके साथ मारपीट की.

एक कार्यकर्ता मिट्टी तेल का कनस्तर ले आया और उस पर छिड़क कर आग लगा दी और भाग गया. येलवा की पुलिस ने बताया कि घटना में वह 70 फीसदी जल गई थी. उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया और इसके बाद निजी अस्पताल में स्थानांतरित किया गया, जहां वह जिंदगी और मौत के बीच जूझ रही है. घटना पर हरकत में आई पुलिस ने तीन लोगों (अशोक एस. पोरनाले और उसके भाई पांडुरंग एस. पोरनाले और नंदकिशोर गोरख) को गिरफ्तार किया है और मामले की जांच शुरू कर दी है.

इनपुट: आईएएनएस...

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें