scorecardresearch
 

सत्ता के लिए एक हो सकती है आप और कांग्रेस: विजय गोयल

विजय गोयल ने कहा दिल्ली की जनता को याद है कि शीला दीक्षित सरकार ने बिना सोचे समझे 2012 में नगर निगम का बंटवारा किया और फिर पूर्वी दिल्ली नगर निगम के साथ तो विशेष धोखा किया और उन्हें सीड मनी के 300 करोड़ रूपये तक नहीं दिए, वर्तमान केजरीवाल सरकार भी गत दो वर्षो से उसी परिपाटी पर चलकर निगमों को आर्थिक रूप से पंगु करती रही है.

विजय गोयल विजय गोयल

एमसीडी चुनाव नजदीक आते ही राजनीतिक सरगर्मियां बढ़ने लगी हैं. पहले जहां बीजेपी कहती रही है कि दिल्ली की लड़ाई आम आदमी पार्टी से है लेकिन अब बीजेपी को लगने लगा है कि इस चुनाव में असली लड़ाई कांग्रेस से है. बीजेपी सांसद विजय गोयल ने शुंगलू कमेटी की रिपोर्ट को लेकर कांग्रेस के काला दिवस मनाने की घोषणा पर जमकर निशाना साधा.

विजय गोयल ने कहा, 'एमसीडी चुनाव में इस बार आम आदमी पार्टी की बजाए कांग्रेस से टक्कर है. 272 वार्ड वाले एमसीडी चुनावों के बाद आप तीसरे पायदान पर रहेगी.' आपको बता दें कि दिल्ली में 23 अप्रैल को एमसीडी चुनाव होने हैं.

विजय गोयल ने कहा कि अगर एमसीडी चुनाव में नतीजा स्पष्ट नहीं आता है तो सत्ता के लिए कांग्रेस और आम आदमी पार्टी हाथ मिला सकते हैं. तो वहीं दिल्ली की जनता कांग्रेस की शीला दीक्षित सरकार के भ्रष्टाचार विशेषकर कॉमनवेल्थ गेम, सीएनजी, लो फ्लोर बस और जल बोर्ड टैंकर घोटाले अभी भूली नहीं है. वर्तमान अरविंद केजरीवाल की सरकार भ्रष्टाचार में कांग्रेस का ही अनुसरण ही कर रही है. जो कल तक दूसरों के खिलाफ जांच रिपोर्ट लेकर घूमते थे. आज खुद जांच रिपोर्टों से बच कर भाग रहे हैं.

उन्होंने आरोप लगाया कि दिल्ली की जनता की जो आज दुर्दशा है, उसके लिए कांग्रेस वर्तमान केजरीवाल सरकार से ज्यादा दोषी है क्योंकि आम आदमी पार्टी को राजनीतिक अस्तित्व में लाने में 2011-12 में कांग्रेस ने सहयोग किया था. और फिर 2013 में केजरीवाल सरकार बनवाकर दिल्ली में निष्क्रियता, भ्रष्टाचार और संवैधानिक गतिरोध का दौर शुरू करवाया.

साथ ही दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष आज नगर निगमों को सक्षम बनाने के अनेक दावे कर रहे हैं पर जनता को याद है कि 2002 से 2007 के कांग्रेस शासित निगम में दिल्ली में क्या हाल था. जिसके फलस्वरूप कांग्रेस बुरी तरह हारी थी. जिसके बाद जनता ने 10 साल तक भाजपा को चुना और अब पुनः तीनों निगमों में भाजपा को ही सेवा का मौका देगी.

विजय गोयल ने कहा दिल्ली की जनता को याद है कि शीला दीक्षित सरकार ने बिना सोचे समझे 2012 में नगर निगम का बंटवारा किया और फिर पूर्वी दिल्ली नगर निगम के साथ तो विशेष धोखा किया और उन्हें सीड मनी के 300 करोड़ रूपये तक नहीं दिए, वर्तमान केजरीवाल सरकार भी गत दो वर्षो से उसी परिपाटी पर चलकर निगमों को आर्थिक रूप से पंगु करती रही है.

साथ ही उन्होंने कहा कि इस चुनाव में आम आदमी पार्टी तीसरे स्थान पर खिसक गई है और उसके कारण केजरीवाल दल बौखला गए हैं, पर कांग्रेस जो न केंद्र और न दिल्ली सरकार में है न जाने किस आधार पर जनता से दिल्ली के विकास की बात कर रही है.

उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी और कांग्रेस दोनों सत्ता लोलुप हैं और 2013 की तरह कभी भी पुनः गठबंधन कर सकते हैं. दिल्ली की जनता इन दोनों दलों की घटिया राजनीति को समझती है और बेहतर दिल्ली के विकास के लिए भारतीय जनता पार्टी को समर्थन देगी. सांसद विजय गोयल ने कहा कि जहां कांग्रेस भ्रष्टाचारी पार्टी है तो वही आप पार्टी अवैध आमदनी पार्टी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें