scorecardresearch
 

महिला मुख‍िया की अनूठी मुहिम- वोट उसी को, जो शराबबंदी कराए

वैसे तो बिहार विधानसभा चुनाव की गाड़ी विकास के रास्ते पर बढ़ते-बढ़ते अब जात-पांत और बदजुबानी की पगडंडियों पर हिचकोले खा रही है, पर पब्ल‍िक अभी भी उम्मीद की लौ जलाने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ रही है.

दारू बंद ब्रिगेड की सदस्यों के साथ उषा देवी दारू बंद ब्रिगेड की सदस्यों के साथ उषा देवी

वैसे तो बिहार विधानसभा चुनाव की गाड़ी विकास के रास्ते पर बढ़ते-बढ़ते अब जात-पांत और बदजुबानी की पगडंडियों पर हिचकोले खा रही है, पर पब्ल‍िक अभी भी उम्मीद की लौ जलाने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ रही है.

दरअसल, प्रदेश के जहानाबाद जिले में एक महिला मुख‍िया ने शराबबंदी के लिए कमर कस ली है. उषा देवी नाम की महिला कोपालपटन की मुख‍िया हैं. उन्होंने शराब और नशे के ख‍िलाफ मोर्चा खोलते हुए एक दारू बंद ब्रिगेड का गठन किया है. उन्होंने आसपास की अन्य महिलाओं को एकजुट करके यह मुहिम छेड़ी है.

खास बात यह है कि इस दारू बंद ब्रिगेड ने चुनाव में उसी उम्मीदवार को वोट देने का फैसला किया है, जो इलाके में शराबबंदी का वादा करे.

गौरतलब है कि प्रदेश में पहले चरण का चुनाव 12 अक्टूबर को होने जा रहा है. चुनाव कुल 5 चरणों में होगा. ओपिनियन पोल के मुताबिक, JDU-RJD की अगुवाई वाले महागठबंधन और BJP की अगुवाई वाले NDA के बीच कड़ा मुकाबला होने जा रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें