scorecardresearch
 

Delhi Elections 2020: AAP की पुलिस कमिश्नर को चिट्ठी- जामिया फायरिंग में हो अनुराग ठाकुर के रोल की जांच

जामिया फायरिंग के तार को आम आदमी पार्टी ने केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर से जोड़ दिया है. आप की लीगल सेल ने दिल्ली के पुलिस कमिश्नर से जामिया फायरिंग केस में अनुराग ठाकुर की भूमिका की जांच की मांग की है.

Delhi Elections 2020: केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर (फाइल- PTI) Delhi Elections 2020: केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर (फाइल- PTI)

  • दिल्ली पुलिस कमिश्नर को AAP की चिट्ठी
  • जामिया हिंसा में अनुराग ठाकुर के रोल की जांच
  • गोली मारो... नारे का दिया हवाला

राजधानी दिल्ली में गुरुवार को जामिया के बाहर हुई खुलेआम फायरिंग की घटना पर राजनीति तेज हो गई है. पुलिस ने भले ही फायरिंग करने वाले शख्स को गिरफ्तार कर लिया हो लेकिन अब आम आदमी पार्टी ने इस मसले को लेकर दिल्ली पुलिस कमिश्नर को चिट्ठी लिखी है. इस चिट्ठी में जामिया फायरिंग की घटना में केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर की भूमिका जांचने की अपील की गई है.

आम आदमी पार्टी ने चिट्ठी में लिखा है, ‘जामिया की घटना सीधे उस क्रोनोलॉजी से मैच करती है जो बीजेपी के नेता अनुराग ठाकुर ने कुछ दिन पहले नारे लगवाए थे. ऐसा लगता है कि फायरिंग करने वाले शख्स ने अनुराग ठाकुर के ‘देश के गद्दारों को..गोली मारो...’ के नारों से प्रेरित हुआ है.’

62a3_epmev4ewkag9-g-1416154526408625805_013120021733.jpg

चिट्ठी में अपील की गई है कि दिल्ली पुलिस को इस घटना की जांच करनी चाहिए और अनुराग ठाकुर के रोल की जांच होनी चाहिए. इस घटना की एफआईआर में अनुराग ठाकुर का भी नाम शामिल करना चाहिए.

इसे भी पढ़ें---- भारी पड़ी बयानबाजी, चुनाव प्रचार में अब तक गिरे बीजेपी के 3 विकेट!

गुरुवार को हुई थी फायरिंग

बता दें कि गुरुवार को जामिया इलाके में जब छात्र नागरिकता संशोधन एक्ट के खिलाफ मार्च निकालने वाले थे, तभी एक शख्स ने भीड़ में से निकलकर फायरिंग की. काफी देर तक नाबालिग ने हथियार को लहराया और फिर फायर कर दिया. इसमें जामिया का छात्र शादाब घायल हो गया. शादाब को दिल्ली के ही एम्स में भर्ती करा दिया गया था.

अनुराग ठाकुर पर हुई है कार्रवाई

दिल्ली विधानसभा चुनाव में बीजेपी के कई नेता अभी तक आक्रामक और भड़काऊ बयान दे चुके हैं. एक जनसभा को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने रैली में ‘देश के गद्दारों को..गोली मारो...’ के नारे लगवाए थे. जिसकी काफी आलोचना हुई थी. चुनाव आयोग ने इस बयान पर एक्शन लेते हुए पहले अनुराग ठाकुर को भाजपा की स्टार कैंपेनर की लिस्ट से हटाया और बाद में 72 घंटे का बैन लगा दिया गया.

इसे भी पढ़ें---- 'आतंकवादी' वाले बयान पर BJP को घेरने के लिए जनता के बीच जाएगी AAP

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर के अलावा प्रवेश वर्मा पर भी भड़काऊ बयान देने के आरोप में कार्रवाई हुई है और 96 घंटे के लिए प्रचार करने से रोक लगा दी गई है. इससे पहले कपिल मिश्रा ने जब शाहीन बाग को मिनी पाकिस्तान बताया था तब उनपर 48 घंटे का बैन लगाया गया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें