scorecardresearch
 

अमित शाह का हमला, कहा- अन्ना हजारे की बदौलत CM बने केजरीवाल, लेकिन लोकपाल भूल गए

दिल्ली के मटियाला में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि अरविंद केजरीवाल अन्ना हजारे की बदौलत मुख्यमंत्री बने और लोकपाल के लिए कानून तक नहीं लाए और जब पीएम मोदी ने लाया तो दिल्ली में लागू नहीं किया. 

अमित शाह ने दिल्ली के मटियाला में चुनावी रैली को संबोधित किया (ANI) अमित शाह ने दिल्ली के मटियाला में चुनावी रैली को संबोधित किया (ANI)

  • दिल्ली की जनता से किए वादे भूल गए केजरीवाल
  • दिल्ली में लोकपाल कानून लागू न करने का आरोप

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष अमित शाह ने गुरुवार को दिल्ली के मटियाला में चुनावी रैली को संबोधित किया. उन्होंने राष्ट्रीय राजधानी के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल पर सीधा हमला बोला. अमित शाह ने कहा कि अरविंद केजरीवाल अन्ना हजारे की बदौलत मुख्यमंत्री बने और लोकपाल के लिए कानून तक नहीं लाए और जब पीएम मोदी ने लाया तो उन्होंने दिल्ली में लागू नहीं किया.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर हमला बोलते हुए शाह ने कहा, अगर देश में झूठे वादे करने की प्रतियोगिता आयोजित की जाती है, तो दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पहला पुरस्कार जीतेंगे. उन्होंने कहा, अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली की जनता से जो वादे किए, उसे वे भूल गए हैं. शाह ने कहा, आप (अरविंद केजरीवाल) भले अपने वादे भूल जाएं, लेकिन दिल्ली की जनता इसे नहीं भूलेगी.

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह गुरुवार को पश्चिमी दिल्ली के मटियाला विधानसभा क्षेत्र में जनसभा को संबोधित कर रहे थे. दिल्ली में 8 फरवरी को मतदान है और 11 को नतीजे आएंगे. इससे पहले सभी पार्टियों ने अपने प्रचार अभियान को तेज कर दिया है. गुरुवार को बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी रैली की और बीजेपी प्रत्याशियों के लिए वोट मांगा.

ये भी पढ़ें: दिल्ली के दंगल का अखाड़ा बना मटियाला, केजरीवाल का रोड शो तो अमित शाह करेंगे रैली

दिल्ली में बीजेपी ने जिन स्टार प्रचारकों की सूची जारी की है उसमें अमित शाह और जेपी नड्डा सहित प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भी नाम है. अन्ना हजारे का जिक्र करते हुए रैली में अमित शाह ने कहा, आप (अरविंद केजरीवाल) अन्ना हजारे की मदद से मुख्यमंत्री बने लेकिन लोकपाल कानून लेकर नहीं आए और नरेंद्र मोदी ने जब यह कानून बनाया तो दिल्ली में इसे लागू नहीं कर रहे. पिछले साढ़े चार साल तक मुख्यमंत्री यह कहते रहे कि प्रधानमंत्री मोदी ने उन्हें काम नहीं करने दिया, इसलिए दिल्ली में विकास नहीं हुआ. अब आप कह रहे हैं कि पिछले 5 साल में आपने दिल्ली को विकसित कर दिया.

ये भी पढ़ें: Delhi Election 2020:केजरीवाल के कैंपेन में मोदी वाले 3 फॉर्मूले, क्या होंगे हिट?

बता दें, बीजेपी अध्यक्ष पद छोड़ने के बावजूद गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली में चुनाव की बागडोर संभाल रखी है. लिहाजा अमित शाह दिल्ली चुनाव में कोई कोर कसर छोड़ना नहीं चाहते. इस सिलसिले में मंगलवार को देर रात गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी अध्यक्ष जे पी नड्डा ने दिल्ली बीजेपी के नेताओं के साथ मैराथन मीटिंग की थी. बैठक दिल्ली बीजेपी के प्रदेश कार्यालय में आयोजित की गई.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें