scorecardresearch
 

Delhi election 2020: क्या भाजपा ने शाहीन बाग को दिल्ली चुनाव का मुद्दा बना दिया?

दिल्ली के रोहतास नगर में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा था कि अगर दिल्ली को सजाना है, संवारना है तो फिर तो भाजपा को वोट दें और अगर ऐसा होगा तो शाहीन बाग पर साफ-साफ असर पड़ेगा.

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (फोटो-PTI) केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (फोटो-PTI)

  • दिल्ली विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने झोंकी ताकत
  • जनसभाओं में शाहीन बाग के मुद्दे पर दे रही जोर

दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi election 2020) में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने पूरी ताकत झोंक दी है. पार्टी के लिए खुद प्रचार कर रहे केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह लगातार अपनी सभाओं में शाहीन बाग को मुद्दा बना रहे हैं. इस मुद्दे पर अमित शाह केजरीवाल सरकार और कांग्रेस को घेरने में कोई चूक नहीं कर रहे हैं. शाह ने तो यहां तक कह डाला कि दिल्ली में शांति और शाहीन बाग के खात्मे के लिए भाजपा को वोट दें. ऐसे में सवाल उठता है कि क्या भाजपा ने शाहीन बाग को दिल्ली विधानसभा चुनाव का मुद्दा बना दिया है?

'शाहीन बाग में हमसे ज्यादा केजरीवाल की बात मानेंगे'

रिठाला में सोमवार को एक जनसभा को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा था 'दंगे करवाएं केजरीवाल, शाहीन बाग के साथ खड़े होने की बाते करे केजरीवाल तो वहां बैठे लोग हमसे ज्यादा अरविंद केजरीवाल की ही बात मानेंगे. श्रीमान केजरीवाल जी आप में हिम्मत है तो जाकर शाहीन बाग में धरने पर बैठें, फिर दिल्ली की जनता आपको अपना फैसला सुनाएगी.' 

हालांकि, शाह के इस बयान के बाद केजरीवाल ने पलटवार किया था. केजरीवाल ने बीजेपी पर 'गंदी राजनीति' करने का आरोप लगाया था. साथ ही कहा था कि भाजपा के नेताओं को तुरंत शाहीन बाग जाकर बात करनी चाहिए और रास्ता खुलवाना चाहिए.

'शाहीन बाग के खात्मे के लिए भाजपा को वोट करें'

रविवार को दिल्ली के रोहतास नगर में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा था कि अगर दिल्ली को सजाना है, संवारना है तो फिर तो भाजपा को वोट दें और अगर ऐसा होगा तो शाहीन बाग पर साफ-साफ असर पड़ेगा. अमित शाह ने कांग्रेस और आम आदमी पर दिल्ली में दंगा करने, हिंसा फैलाने और लोगों को उकसाने का भी आरोप लगाया. उन्होंने साफ शब्दों में लोगों से अपील की है कि दिल्ली में शांति और शाहीन बाग के खात्मे के लिए भाजपा को वोट दें.

'शाहीन बाग को शह दे रहे राहुल गांधी-केजरीवाल'

24 जनवरी को दिल्ली के सोनिया विहार के करावल नगर में एक नुक्कड़ सभा को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि था केजरीवाल और राहुल गांधी की पार्टी शाहीन बाग जैसी घटनाओं को शह दे रही है, इसकी वजह से दिल्ली में दंगे जैसा माहौल पैदा हो रहा है. ऐसे में साफ है कि 'जो देश की सुरक्षा को खतरे में डाल सकता है वो दिल्ली को कैसे संभाल सकता है.'

संबित पात्रा ने जारी किया था विवादास्पद वीडियो

हाल में CAA के खिलाफ चल रहे विरोध प्रदर्शन के बीच एक और विवादास्पद वीडियो सामने आया था. इस वीडियो को भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने ट्विटर पर साझा करते हुए पूछा था 'अगर ये वीडियो देश विरोधी नहीं है तो क्या है?' संबित पात्रा ने वीडियो साझा करते हुए लिखा था, 'दोस्तो, शाहीनबाग की असलियत देखें. वीडियो में कहा जा रहा है कि असम को इंडिया से काटकर अलग करना हमारी जिम्मेदारी है.'

Delhi election 2020: BJP ने शाहीन बाग को बनाया एजेंडा, दिल्ली जीतने के लिए 200 सांसदों की उतारेगी फौज

इस वीडियो को साझा करने के तुरंत बाद संबित पात्रा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी. इस दौरान संबित पात्रा ने कहा था 'शाहीनबाग में जिस प्रकार की बातें हो रही हैं, उसे दिशाहीन बाग कहना चाहिए. दिशाहीन बाग क्या, तौहीनबाग कहना चाहिए.' हालांकि, बाद में खबर ये आई कि शरजील का जो वीडियो संबित पात्रा ने शाहीन बाग से जोड़कर शेयर किया था, वो दरअसल अलीगढ़ का था.

'शाहीन बाग में कौन किधर कैंपेन' शुरू

बीजेपी ने सोमवार को 'शाहीन बाग में कौन किधर कैंपेन' शुरू किया है. इस अभियान के तहत बीजेपी के नेता आम आदमी पार्टी और लोगों से ये पूछेंगे कि वे शाहीन बाग के समर्थन में हैं या फिर विरोध में. साथ ही बीजेपी एक फरवरी से अपने 200 सांसदों को दिल्ली चुनाव प्रचार में लगाने जा रही है. इससे साफ जाहिर है कि बीजेपी दिल्ली में अपना चुनावी प्रचार अभियान शाहीन बाग प्रोटेस्ट और राष्ट्रवाद के मुद्दे पर लड़ने जा रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें