scorecardresearch
 

रांचीः RJD नेता की जेल में लालू से मुलाकात की तस्वीर पर बवाल, बीजेपी ने लगाया ये आरोप

आरजेडी नेता सैयद अली का लालू प्रसाद यादव से मुलाकात का फोटो सोशल मीडिया में साझा किए जाने के बाद विवाद शुरू हो गया है. जेल मैन्युअल का हवाला देते हुए बीजेपी ने कहा है कि किसी सजायाफ्ता मुजरिम के साथ तस्वीर नहीं खींचा सकते. बड़ा सवाल यह है कि अगर यह तस्वीर मोबाइल से ली गई है तो मोबाइल को केली बंगले के अंदर ले जाने की इजाजत किसने दी?

लालू की इसी तस्वीर से विवाद पैदा हो गया (फोटो-सोशल मीडिया) लालू की इसी तस्वीर से विवाद पैदा हो गया (फोटो-सोशल मीडिया)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • आरजेडी नेता सैयद अली ने लालू के साथ की तस्वीर पोस्ट की
  • BJP- मिली सुविधाओं का जमकर दुरुपयोग कर रहे लालू
  • तस्वीर विवाद पर कांग्रेस ने कहा- पुरानी फोटो शेयर कर रहे लोग

बिहार विधानसभा चुनाव प्रचार के शोर के बीच राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) नेता सैयद अली का लालू प्रसाद यादव से मुलाकात का फोटो सोशल मीडिया पर साझा किए जाने के बाद विवाद खड़ा हो गया है. झारखंड की मुख्य विपक्षी पार्टी भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने एक बार फिर जेल मैनुअल के उल्लंघन का सवाल खड़ा करते हुए हेमंत सोरेन सरकार पर हमला बोला है.

बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने कहा कि केली बंगले में लंबे समय से जेल मैनुअल का उल्लंघन हो रहा है और यह बिल्कुल भी नहीं रुक रहा. उन्होंने कहा कि आज बिहार आरजेडी के नेता सैयद अली ने लालू प्रसाद से मुलाकात की और मुलाकात की तस्वीरों को फेसबुक पर साझा करते हुए लिखा कि लालू प्रसाद को बिहार चुनाव की स्थिति पर अवगत कराया.

आरजेडी नेता सैयद अली ने पोस्ट की थी यह तस्वीर
आरजेडी नेता सैयद अली ने पोस्ट की थी यह तस्वीर

देखें: आजतक LIVE TV 

साथ ही जेल मैन्युअल का हवाला देते हुए बीजेपी प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने कहा है कि किसी सजायाफ्ता मुजरिम के साथ तस्वीर नहीं खींचा सकते. यहां बड़ा सवाल यह है कि अगर यह तस्वीर मोबाइल से ली गई है तो मोबाइल को केली बंगले के अंदर ले जाने की इजाजत किसने दी? दूसरा जेल मैनुअल स्पष्ट करता है कि सजायाफ्ता मुजरिम के साथ कोई राजनीतिक बातचीत नहीं होगी और असिस्टेंट जेलर लेवल का अधिकारी मुलाकात के दौरान मौजूद रहेगा.

शाहदेव ने आरोप लगाया कि केली बंगला राष्ट्रीय जनता दल का प्रधान चुनावी कार्यालय बनकर कार्य कर रहा है. लालू प्रसाद खुद को मिली सुविधाओं का जमकर दुरुपयोग कर रहे हैं. राज्य सरकार को इस पर अविलंब कार्रवाई करनी चाहिए.

दूसरी ओर प्रदेश कांग्रेस ने इस पूरे प्रकरण में सैयद अली और लालू प्रसाद यादव की फोटो को पुरानी बताकर पल्ला झाड़ लिया. प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता राजेश गुप्ता ने कहा कि लोग बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान लालू यादव से नेताओं की मुलाकात की पुरानी फोटो साझा कर रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें