scorecardresearch
 

बिहार में रोजगार पर बोले राहुल गांधी- अब मोदी ने 2 करोड़ की बात कही तो भीड़ भगा देगी

रैली के दौरान राहुल गांधी ने कहा कि कुछ साल पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यहां आए थे और कहा था कि ये गन्ने का इलाका, चीनी मिल चालू करूंगा और अगली बार आऊंगा तो यहां की चीनी चाय में मिलाकर पिऊंगा. चाय पी आपके साथ?

आज बिहार के चुनाव प्रचार में राहुल गांधी आज बिहार के चुनाव प्रचार में राहुल गांधी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बिहार के चुनाव प्रचार में आज फिर राहुल गांधी
  • पश्चिमी चंपारण और दरभंगा में राहुल की रैलियां

बिहार में पहले चरण के मतदान के बीच आज कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी चुनाव प्रचार कर रहे हैं. राहुल गांधी की आज दो रैलियां हैं. राहुल की पहली रैली पश्चिमी चंपारण में हो गई है. यहां उन्होंने तेजस्वी यादव की तारीफ करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जमकर आलोचना की.

इस दौरान राहुल गांधी ने कहा कि कुछ साल पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यहां आए थे और कहा था कि ये गन्ने का इलाका है, चीनी मिल चालू करूंगा और अगली बार आऊंगा तो यहां की चीनी चाय में मिलाकर पिऊंगा. चाय पी क्या आपके साथ?

दशहरे पर पीएम का पुतला जला

राहुल गांधी ने कृषि कानूनों का मुद्दा उठाते हुए कहा कि आम तौर पर दशहरे पर रावण के पुतले जलाए जाते हैं, लेकिन पंजाब में इस बार प्रधानमंत्री और अडाणी के पुतले जलाए गए. इस बार पूरे पंजाब में दशहरा पर रावण नहीं, नरेंद्र मोदी, अंबानी और अडाणी का पुतला जलाया गया. राहुल ने कहा कि ये दुख की बात है, लेकिन ऐसा इसलिए हो रहा है क्योंकि किसान परेशान हैं.

देखें: आजतक LIVE TV

रोजगार पर क्या बोले राहुल गांधी

राहुल गांधी ने रोजगार का मुद्दा उठाते हुए कहा कि बिहार के लोगों को दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, बेंगलुरु में रोजगार मिलता है लेकिन बिहार में नहीं मिलता. क्योंकि नीतीश कुमार और नरेंद्र मोदी की कमी है. रैली में मौजूद दीपक गुप्ता नाम के एक युवक का नाम लेते हुए राहुल गांधी ने कहा कि मोदी जी ने दीपक गुप्ता को नौकरी से निकाल दिया. राहुल ने दीपक से पूछा- आप दिल्ली में क्या काम करते थे, जवाब आया कि मेट्रो में. इस पर राहुल ने कहा कि बिहार मेट्रो में आपको काम क्यों नहीं मिला, क्योंकि यहां मेट्रो ही नहीं है. 

मोदी को भगा देगी जनता

राहुल गांधी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी पर झूठ बोलने का आरोप लगाते हुए कहा कि ये झूठ बोलते हैं. पहले 2 करोड़ रोजगार की बात कही थी. राहुल ने कहा कि अब अगर पीएम मोदी यहां आकर 2 करोड़ रोजगार की बात बोल दें तो शायद भीड़ उन्हें भगा देगी.

इसके साथ ही राहुल ने कहा कि हम रोजगार देना जानते हैं, बाकी तमाम विकास करना जानते हैं लेकिन हमारे अंदर एक कमी है. राहुल ने कहा कि मैं इस बात को स्वीकारता हूं कि हम झूठ बोलना नहीं जानते हैं, इस मामले में हमारा उनसे कोई मुकाबला ही नहीं है.

मजदूरों को मोदी ने पैदल भगाया

लॉकडाउन के दौरान पैदल चलकर बिहार लौटे पर मजदूरों का मसला उठाते हुए राहुल गांधी ने कहा कि मजदूरों के लिए प्रधानमंत्री ने कोई इंतजाम नहीं किया गया, मजदूरों को पैदल भगाया. मैंने मजदूरों से मुलाकात की, उन्होंने बताया कि हमें कुछ टाइम दे देते तो घर चले जाते.

बता दें कि कांग्रेस आरजेडी और लेफ्ट के साथ मिलकर बिहार में विधानसभा चुनाव लड़ रही है. कांग्रेस को 243 में से 70 सीटें मिली हैं. हालांकि, महागठबंधन का सीएम फेस लालू यादव के बेटे और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव को बनाया गया है. कहा जाए तो बिहार का पूरा चुनाव फिलहाल नीतीश कुमार बनाम तेजस्वी यादव पर भी केंद्रित है. नीतीश एनडीए का चेहरा हैं तो तेजस्वी महागठबंन का. 

एनडीए के लिए माहौल बनाने जहां पीएम नरेंद्र मोदी पहुंच रहे हैं तो महागठबंधन के समर्थन में राहुल हुंकार भर रहे हैं. इससे पहले राहुल ने 23 अक्टूबर को दो रैलियों को संबोधित किया था. राहुल गांधी ने अपनी स्पीच में चीन और प्रवासी मजदूरों का मुद्दा उठाया था.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें