scorecardresearch
 

Gaya: चिराग पासवान ने कहा- बिहार ही क्यों ऐसा राज्य है, जहां चकाचक नहीं दिखता

एलजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने शुक्रवार को गया के शेरघाटी में चुनावी सभा को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने सीएम नीतीश पर हमला बोलते हुए कहा कि 5 साल कोई कार्य नहीं किया जो धरातल पर दिखता हो. नीतीश कुमार सात निश्चय में वादा करते हैं कि बिहार में बहुत सारे विकास हुए हैं. जैसे हर घर नल जल पहुंचाया एवं भ्रष्टाचार से बिहार को मुक्त कर दिया.

बिहार में एक ही जाती है जिसका नाम गरीबी है. बिहार में एक ही जाती है जिसका नाम गरीबी है.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बिहार में सरकार बनी तो शेरघाटी को पहले देंगे जिले का दर्जा
  • बिहार में एक ही जाति है जिसका नाम गरीबी है- चिराग
  • चिराग पासवान ने शेरघाटी में चुनावी सभा को संबोधित किया

एलजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने शुक्रवार को गया के शेरघाटी में चुनावी सभा को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने शेरघाटी विधानसभा क्षेत्र से उम्मीदवार मुकेश कुमार यादव उर्फ  कृष्णा यादव के लिए वोट की अपील की. सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने वर्तमान सरकार की कमियां गिनाईं, वहीं सीएम नीतीश कुमार पर जमकर बसरे. 

उन्होंने कहा कि देश में कई ऐसे राज्य हैं, जो आजादी के बाद चकाचक रहते हैं लेकिन बिहार ही क्यों ऐसा राज्य है जहां चकाचक नहीं दिखता है. उन्होंने कहा कि युवा जब रोजगार मांगता है तो कहते हैं रोजगार नहीं दूंगा. बता दें कि पंजाब, हरियाणा, मध्य प्रदेश में विकास की खेती होती है.

इस दौरान उन्होंने सीएम नीतीश पर हमला बोलते हुए कहा कि 5 साल कोई कार्य नहीं किया जो धरातल पर दिखता है. नीतीश कुमार सात निश्चय में वादा करते हैं कि बिहार में बहुत सारे विकास हुए हैं. जैसे हर घर नल जल पहुंचाया एवं भ्रष्टाचार से बिहार को मुक्त कर दिया. वहीं, उन्होंने कहा कि बिहारियों को उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए दिल्ली, राजस्थान, कोटा आदि जगह पर जाना पड़ता है. यदि मुख्यमंत्री चाहते तो यहां के छात्र छात्राओं के लिए बिहार में बेहतर व्यवस्था दी जा सकती है.

देखें: आजतक LIVE TV

उन्होंने कहा कि यह सरकार युवा विरोधी है और अपने अधिकार के लिए हमेशा बिहारी लड़ते रहे हैं लेकिन इस विरोधी सरकार ने 15 साल के शासनकाल में न तो बिहार में एक रोजगार की सुविधा दी और न कोई सुविधा उपलब्ध कराई और न ही बिहार में कोई विकास दिख रहा है.
      
बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट को लेकर उन्होंने कहा कि जैसे बिहार में विकास को लेकर बड़ी-बड़ी बातें कही जाती हैं लेकिन यहां के मुख्यमंत्री ने केवल यहां के लोगों को जाति और धर्म में बांट दिया है . उसी के आधार पर सभी को बांट कर अलग कर दिया है. लेकिन यहां कोई जाति और धर्म नहीं है केवल बिहार में एक ही जाति है, जिसका नाम गरीबी है. यह दूर हो जाएगा तो बिहार के लोग भी खुशहाल हो जाएंगे. उन्होंने यह भी कहा कि स्वार्थ के लिए जाति में बांट देना मुख्यमंत्री का ही कर्तव्य है.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की सोच है कि देश की जनता और प्रदेश की जनता खुशहाल रहे और उन्होंने एक-एक काम को बेहतर तरीके से धरातल पर उतारने का काम किया. लेकिन साधन संसाधन बिहार के लोगों तक नहीं पहुंच पाया है. उन्होंने कहा कि बिहार में एलजेपी की सरकार बनती है तो सबसे पहले शेरघाटी को जिला बनाया जाएगा. (इनपुट-बिमलेंदु चैतन्य)

ये भी पढ़ें

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें