scorecardresearch
 

स्कूल लाइफ में तैराकी-दौड़ के चैंपियन थे जेपी नड्डा, आजतक पर खोले बचपन के राज

बिहार की राजधानी पटना में आजतक के साथ खास बातचीत में बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने अपने बचपन की खास बातों को साझा किया. इस दौरान जेपी नड्डा ने बताया कि वो अपनी स्कूल लाइफ में तैराकी चैंपियन थे. इसके साथ ही वो दौड़ में भी चैंपियन रह चुके हैं.

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (फाइल फोटो- पीटीआई) बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (फाइल फोटो- पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • आजतक के साथ जेपी नड्डा का इंटरव्यू
  • जेपी नड्डा ने बताई कई खास बातें
  • स्कूल लाइफ में तैराकी चैंपियन थे जेपी नड्डा

बिहार में विधानसभा के लिए आने वाले दिनों में चुनाव होने वाले हैं. इस चुनाव के लिए राजनीतिक पार्टियां पूरा दमखम दिखा रही है. इस बीच भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने बताया कि वो अपनी स्कूल लाइफ में तैराकी चैंपियन रह चुके हैं.

बिहार की राजधानी पटना में आजतक के साथ खास बातचीत में बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने अपने बचपन की खास बातों को साझा किया. इस दौरान जेपी नड्डा ने बताया कि वो अपनी स्कूल लाइफ में तैराकी चैंपियन थे. इसके साथ ही वो दौड़ में भी चैंपियन रह चुके हैं.

जेपी नड्डा ने बताया, 'खेल में मेरी रुचि थी. राजनीति के बारे में विचार नहीं थे. मैं 100 मीटर दौड़ का चैंपियन भी था. मैं बिहार में स्विमिंग चैंपियन भी रहा. मैं बिहार में जूनियर्स में स्विमिंग में नंबर-4 रहा हूं. यहां सब लोग कहते थे कि नड्डा या तो क्लास में मिलेगा या स्विमिंग पूल में मिलेगा. इसके अलावा प्रींसिपल की तरफ से मुझे इजाजत थी कि कभी भी मैं स्विमिंग पूल को इस्तेमाल कर सकता था.'

देखें: आजतक LIVE TV

जेपी नड्डा ने कहा, 'पढ़ाई और खेल में मेरी रुचि थी. राजनीति में ज्यादा रुचि नहीं थी. मेरे पिताजी प्रोफेसर थे. 1972-73 के दौर में पटना में राजनीति का एपिसेंटर यूनिवर्सिटी था. मुझे यूनिवर्सिटी में ही रहने का मौका मिला. मैंने देखा कि यहां पर राजनीतिक चेतना बहुत प्रबल है. मैं भी उसी में आ गया. जेपी के आंदोलन में मैं भी शामिल हुआ. उस आंदोलन ने आगे चलकर विराट रूप लिया.'

बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा, 'मेरी जिंदगी की शुरुआत बिहार में हुई. बिहार की एक अजब हवा है, गर्मजोशी है, प्यार है, संस्कार है, जिसे मैं जीता हूं. हिमाचल प्रदेश जाने के बाद भी मैं यहां की याद से भावुक हो जाता हूं. मैंने बिहार से बहुत कुछ सीखा है.'

 

TAGS:
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें