scorecardresearch
 

चिराग ने जारी किया विजन डॉक्यूमेंट, कहा- केंद्र की योजनाओं को अपनी उपलब्धि बता रहे नीतीश

बिहार चुनाव में लोक जनशक्ति पार्टी इस बार अकेले ही चुनाव लड़ रही है. चिराग पासवान ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में पार्टी का विजन डॉक्यूमेंट जारी किया.

X
चिराग पासवान ने जारी किया विजन डॉक्यूमेंट चिराग पासवान ने जारी किया विजन डॉक्यूमेंट
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बिहार चुनाव के लिए लोजपा का विजन डॉक्यूमेंट
  • चिराग ने दिया बिहार फर्स्ट-बिहारी फर्स्ट का मंत्र

बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण के लिए मतदान में अब एक हफ्ते का वक्त बचा है. इससे पहले बुधवार को लोक जनशक्ति पार्टी के प्रमुख चिराग पासवान ने अपनी पार्टी का विजन डॉक्यूमेंट जारी किया. चिराग पासवान बोले कि लाखों लोगों ने इसमें अपने इनपुट दिए हैं, खुद पिता रामविलास पासवान ने अस्पताल में रहते हुए इसे तैयार करवाया है.

चिराग ने कहा कि नीतीश कुमार प्रदेश में मेरे जैसे युवाओं की टांग खींचने में लगे हैं. चिराग बोले कि अगर नीतीश जीते तो बिहार हार जाएगा. चिराग ने कहा कि केंद्र सरकार की योजनाओं को अपनी उपलब्धि बताते हैं नीतीश कुमार, पहले खुद ही पीएम मोदी का विरोध किया और अब उनके साथ ही खड़े हैं.

लोजपा के विजन डॉक्यूमेंट की बड़ी बातें: 

  • राज्य में बड़े स्तर पर मेडिकल कॉलेज, इंजीनियरिंग कॉलेज खोलने का वादा, ताकि बिहारी युवा बाहर पढ़ने ना जाए.
  • बिहार में अभी स्वास्थ्य की सही सुविधा नहीं है. अस्पतालों में डॉक्टर नहीं है, जबकि नौकरियां खाली पड़ी हैं.
  • सरकार बनने पर प्रवासी मजदूरों के लिए अलग मंत्रालय बनेगा, जो मजदूर अलग राज्य में रहते हैं उनसे संपर्क रखा जाएगा.
     

चिराग पासवान बोले कि मैं सकारात्मक राजनीति करना चाहता हूं, युवा हूं और दुनिया घूमा हुआ हूं. ऐसे में हमने अपने विजन डॉक्यूमेंट में हर मुद्दे को शामिल किया है, जिससे बिहार की जनता जूझती है. चिराग ने नीतीश कुमार पर निशाना साधा, उन्होंने कहा कि अबतक तो बिजली पहुंच जानी चाहिए थी लेकिन सीएम अब वादा कर रहे हैं. चिराग ने कहा कि तीन दशक सिर्फ विकास की बातें हुईं, मौजूदा सीएम भी जातीय राजनीति को बढ़ावा देते हैं. लोजपा नेता बोले कि प्रदेश में नए कारखाने तो खुलना दूर, पुराने ही बंद हो रहे हैं. 

देखें: आजतक LIVE TV


चिराग पासवान ने अपनी पार्टी के विजन डॉक्यूमेंट की पहली कॉपी अपनी मां को सौंपी. पिता रामविलास पासवान के निधन के बाद चिराग पहली बार आज से ही प्रचार शुरू करेंगे. 



लोक जनशक्ति पार्टी इस बार अकेले ही चुनावी मैदान में है और एनडीए का साथ छोड़ चुकी है. नीतीश कुमार का विरोध करते हुए चिराग पासवान ने एनडीए से अलग रास्ता पकड़ा और अकेले ही चुनावी मैदान में कूद पड़े. लोजपा ने जदयू के खिलाफ अपने कैंडिडेट उतारे हैं. इसके अलावा कुछ सीटों पर बीजेपी से भी मुकाबला है. हालांकि, चिराग पासवान लगातार कह रहे हैं कि सरकार बीजेपी की बननी चाहिए और अंत में बीजेपी-लोजपा ही सरकार बनाएंगे.  

ये भी पढ़ें

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें