scorecardresearch
 

नीतीश के बच्चों वाले बयान पर घमासान, सांसद मनोज तिवारी और रवि किशन ने किया बचाव

बीजेपी के दो स्टार सांसद मनोज तिवारी और रवि किशन ने नीतीश कुमार के बयान का बचाव किया है. यूपी के गोरखपुर से सांसद रवि किशन ने कहा है कि नीतीश कुमार ने एक संदर्भ में 8-8, 9-9 बच्चों वाली बात कही है, हमें उस संदर्भ को समझना चाहिए.

बीजेपी सांसद मनोज तिवारी बीजेपी सांसद मनोज तिवारी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • नीतीश कुमार के बयान पर घमासान जारी
  • मनोज तिवारी और रवि किशन ने किया बचाव

बिहार चुनाव में पहले चरण का प्रचार अराजकता और रोजगार से आते-आते अंत में परिवार तक पहुंच गया है. जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लालू यादव के बच्चों की संख्या पर टिप्पणी कर एक नये मुद्दे को हवा दे दी है. नीतीश कुमार के इस बयान की विपक्ष आलोचना कर रहा है तो एनडीए के नेता बचाव कर रहे हैं. 

बीजेपी के दो स्टार सांसद मनोज तिवारी और रवि किशन ने नीतीश कुमार के बयान का बचाव किया है. यूपी के गोरखपुर से सांसद रवि किशन ने कहा है कि उन्होंने एक संदर्भ में 8-8, 9-9 बच्चों वाली बात कही है, हमें उस संदर्भ को समझना चाहिए. 

रवि किशन ने कहा कि तेजस्वी यादव नीतीश कुमार के बयान को तोड़मोड़ कर पेश कर रहें हैं. नीतीश कुमार इंजीनियर हैं. तेजस्वी यादव बताएं कि उनके पिताजी और माता जी के राज में बिहार के क्या हालात थे.

मनोज तिवारी ने भी किया बचाव

नीतीश कुमार ने 26 अक्टूबर को वैशाली में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा था कि जिनके 8-8, 9-9 बच्चे हैं वो कहते हैं विकास करेंगे. नीतीश के इस बयान की आरजेडी नेता तेजस्वी समेत विपक्ष के बाकी नेताओं ने भी निंदा की है. वहीं, दिल्ली से बीजेपी सांसद मनोज तिवारी ने नीतीश कुमार का बचाव करते हुए कहा है कि मैंने भी अपनी रैली में कहा था कि 9वीं क्लास फेल शिक्षा के महत्व को क्या समझ सकता है और हम ऐसे व्यक्ति से क्या उम्मीद कर सकते हैं. 

देखें: आजतक LIVE TV

मनोज तिवारी ने कहा कि तेजस्वी यादव सिर्फ़ झूठे वादे कर रहे हैं उन्हें क्या पता है विकास क्या होता है. जिसके माता-पिता दोनों मुख्यमंत्री रहें वो सिर्फ नवीं पास हैं वो क्या नौकरी देंगे. 

दूसरी तरफ तेजस्वी ने नीतीश कुमार की टिप्पणी पर जवाब देते हुए कहा है कि नरेंद्र मोदी को निशाना बनाया जा रहा है, क्योंकि वो भी 6-7 भाई-बहन हैं. नीतीश कुमार का बयान महिलाओं की अस्मिता पर सवाल उठा रहा है, इसलिए उन्होंने मेरी मां की भी मर्यादा को ठेस पहुंचाई है.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें