scorecardresearch
 

Jamui: धमकी भरे पर्चे मिले, ऐसे नाकाम हुई नक्सली साजिश

लक्ष्मीपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत जमुई-मुंगेर सीमावर्ती इलाके में कोबरा-नक्सली मुठभेड़ के बाद पुलिस ने भारी मात्रा में नक्सली सामान बरामद किया है. हालांकि इस दौरान किसी नक्सली के मार गिराए जाने की सूचना नहीं है.

मुठभेड़ की पुष्टि मुंगेर प्रक्षेत्र के डीआईजी ने की मुठभेड़ की पुष्टि मुंगेर प्रक्षेत्र के डीआईजी ने की
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पुलिस ने गुप्त सूचना पर सर्च ऑपेरशन चलाया
  • नक्सलियों के बंकरों को ध्वस्त कर सामान बरामद
  • किसी नक्सली के मार गिराए जाने की सूचना नहीं

28 अक्टूबर को होने वाले बिहार विधानसभा चुनाव में नक्सलियों ने जमुई को दहलाने की जो योजना बनाई थी उस पर पुलिस ने पानी फेर दिया. तीन दिनों तक जमुई और मुंगेर के जंगलों में पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर सर्च ऑपेरशन चलाया. इस दौरान नक्सलियों के कई बंकरों को ध्वस्त कर भारी मात्रा में सामानों को बरामद किया. बरामद सामानों में सबसे अधिक मात्रा में चुनावी पर्चे मिले जिसमें नक्सलियों ने ऐलान किया है आप चाहते हैं कि भूख से मरे, अगर ऐसा नहीं तो आप विधानसभा चुनाव का बहिष्कार करें.

दरअसल, बिहार चुनाव के पहले चरण के 28 अक्टूबर को मतदान होना है. जिसमे जमुई जिले के भी चार विधानसभा क्षेत्र जिसमे जमुई, सिकन्दरा, झाझा और चकाई मे जिला पुलिस प्रशासन इस चुनाव को निष्पक्ष और शांतिपूर्ण ढंग से सफल बनाने को लेकर अभी से काफी तैयारियां कर रही है. इसी के मद्देनजर नक्सलियों के विरुद्ध जमुई पुलिस सर्च ऑपरेशन चला रही है. बता दें कि जमुई के 10 में से 8 प्रखंड नक्सलियों का गढ़ माना जाता है.

लक्ष्मीपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत जमुई-मुंगेर सीमावर्ती इलाके में कोबरा-नक्सली मुठभेड़ के बाद पुलिस ने भारी मात्रा में नक्सली सामान बरामद किया है. हालांकि इस दौरान किसी नक्सली के मार गिराए जाने की सूचना नहीं है, लेकिन बताया यह जा रहा है कि एक नक्सली को गोली लगी है, लेकिन उसके साथी उसे लेकर भाग निकले. मुठभेड़ की पुष्टि मुंगेर प्रक्षेत्र के डीआईजी मनु महाराज ने की.

डीआईजी ने बताया कि इस क्रम में जमुई-मुंगेर सीमा पर स्थित मुंगेर जिले के पैसरा इलाके में नक्सली दल ने कोबरा 207 की टीम पर हमला कर दिया. उक्त दल में 20 से 25 की संख्या में नक्सली शामिल थे जिसका नेतृत्व नक्सली सहदेव सोरेन कर रहा था. इस दौरान दोनों तरफ से कई राउंड फायरिंग हुई है. हालांकि नक्सली मौके से भाग निकले पर इस दौरान पुलिस ने कई सामान बरामद किया है. डीआईजी ने बताया कि उक्त स्थान से सुरक्षा बलों ने एक पिस्टल, दो रेडियो सेट, एक ग्रेनेड, 4 पाउच एमो, आईडी बनाने में इस्तेमाल किया जाने वाला मटेरियल, चुनाव से संबंधित कई सामान, भोजन और अन्य सामान बरामद किया है.

देखें: आजतक LIVE TV 

बीते रविवार को जमुई-मुंगेर सीमावर्ती इलाके पर स्थित पैसरा के जंगली इलाके में नक्सलियों की कोबरा 207 बटालियन के जवानों के साथ मुठभेड़ हुई थी. इसके बाद कोबरा ने मौके से भारी मात्रा में नक्सली सामान बरामद किया है. जिसमें विधानसभा चुनाव के बहिष्कार को लेकर कई सामान मौजूद है. बरामद सामानों में सबसे अधिक मात्रा में चुनावी पर्चे हैं, जिसमें नक्सलियों ने ऐलान किया है कि आम लोग विधानसभा चुनाव का बहिष्कार करें. उन्होंने कहा है कि आप चाहते हैं कि भूख से मरे, अगर ऐसा नहीं तो आप विधानसभा चुनाव का बहिष्कार करें. इसके अलावा उन्होंने बिहार विधानसभा चुनाव का बहिष्कार कर जनवाद के निर्माण करने का ऐलान भी किया है. (रिपोर्ट-  जयप्रकाश कुमार)

ये भी पढ़ें:

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें