scorecardresearch
 
बिहार विधानसभा चुनाव

कोर्ट में शपथ पत्र देकर बोले पप्पू यादव- 3 साल में वादा पूरा नहीं किया तो इस्तीफा दूंगा

Pappu Yadav Says unable to keep promise in 3 years resign from my post
  • 1/5

बिहार में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. इसके पहले अलग-अलग दलों के नेता अपने-अपने वादे करने लगे हैं. कई नेताओं ने पिछले चुनाव में भी कुछ वादे किए थे. कुछ पूरे हुए कुछ अब भी बाकी हैं. इस बीच, जन अधिकार पार्टी (जाप) के अध्यक्ष पप्पू यादव ने ऐसा काम कर दिया जो हैरान करने वाला है. पप्पू यादव ने कोर्ट में शपथ पत्र देकर कहा है कि अगर तीन साल में अपने वायदे पूरे नहीं किए तो अपने पद से इस्तीफा दे दूंगा.

Pappu Yadav Says unable to keep promise in 3 years resign from my post
  • 2/5

जाप के आलाकमान पप्पू यादव ने मीडिया को बताया कि कोर्ट में दिए गए शपथ पत्र में उन्होंने लिखा है, यदि पार्टी समय सीमा के अंदर अपने किए गए सभी वायदे को पूरा नहीं कर पाती है तो वे पद से इस्तीफा दे देंगे. उन्होंने अपने वायदों को पूरा करने के लिए तीन साल की समय सीमा तय की है.

Pappu Yadav Says unable to keep promise in 3 years resign from my post
  • 3/5

पप्पू यादव ने कहा कि बिहार की जनता उन नेताओं को सबक सिखाएगी जो चुनाव से पहले वादा तो करते हैं लेकिन उन्हें जीतने के बाद पूरा नहीं करते. उनकी जन अधिकार पार्टी इस बार पूरे दमखम से मैदान में उतरेगी. उन्होंने उम्मीद जताई है कि इस बार जनता उनका साथ जरूर देगी. 

Pappu Yadav Says unable to keep promise in 3 years resign from my post
  • 4/5

इसी बीच पप्पू यादव ने हिंदी के प्रसिद्ध कवि गोपाल सिंह नेपाली की बेटी सविता सिंह नेपाली को अपनी पार्टी की सदस्यता दिलाई. पप्पू यादव ने कहा कि उनकी पार्टी हर मुसीबत में जनता के साथ रही है. आगे भी रहेगी. कितनी भी विकट स्थिति रही हो, हमारी पार्टी लोगों के साथ खड़ी रही है.

Pappu Yadav Says unable to keep promise in 3 years resign from my post
  • 5/5

पप्पू यदाव ने कहा कि मैं, हमारी पार्टी और उसके कार्यकर्ता हमेशा लोगों के लिए सड़कों पर तैयार खड़े रहे हैं. पटना का जलजमाव हो, मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार, बाढ़ हो या कोरोना हमारे कार्यकर्ता हमेशा जन सेवा में लगे रहते हैं. इसलिए ही हमारी पार्टी के साथ लोग जुड़ रहे हैं. इस मौके राष्ट्रीय महासचिव राजेश रंजन पप्पू राघवेन्द्र सिंह कुशवाहा और अवधेश लालू उपस्थित थे.