scorecardresearch
 
बिहार विधानसभा चुनाव

Gopalganj: नामांकन रद्द हुआ तो रोने लगा प्रत्याशी, भांजा बेसुध होकर जमीन पर गिर पड़ा

 Nomination cancelled Candidate Start crying
  • 1/5

गोपालगंज के बरौली विधानसभा के आरओ और उपविकास आयुक्त आर. सज्जन के कार्यालय के बाहर उस समय हंगामा हुआ, जब नामांकन रद्द होने की वजह से एक निर्दलीय प्रत्याशी अनिल कुमार फफक-फफक कर रोने लगा. उसे रोते हुए देख उसका भांजा मनोज कुमार भी जोर-जोर से रोते हुए जमीन पर गिर पड़ा. वहां मौजूद लोगों ने उसे संभाला. (इनपुट- सुनील कुमार तिवारी)

 Nomination cancelled Candidate Start crying
  • 2/5

आसपास के लोग मामा-भांजे दोनों को संभालते रहे लेकिन उनका रोना बंद नहीं हो रहा था. इस दौरान मीडिया कर्मियों और लोगों ने उनकी फोटो खीचीं और वीडियो बनाया. आरओ कार्यालय में मौजूद प्रत्याशियों का आरोप था कि आरओ आर. सज्जन ने उनका काम नहीं किया. 

 Nomination cancelled Candidate Start crying
  • 3/5

इसी प्रकार निर्दलीय प्रत्याशी मुकेश राय और जाप प्रत्याशी विजय प्रताप सिंह ने बरौली आरओ के विरुद्ध हंगामा खड़ा कर दिया. निर्दलीय प्रत्याशी मुकेश कुमार राय का कहना था कि आरओ ने नोटिस दिया था, जिसका उत्तर देने के लिए आज 11 बजे तक समय दिया गया था. आरओ खुद 10.55 पर दफ्तर आए. कागज लेने से मना कर दिया. यह पूरा वाकया सीसीटीवी में कैद है. कहा गया कि कतार में आइए. उनके कक्ष में तीन लोग घुसे और उसके बाद समय खत्म हो गया.

 Nomination cancelled Candidate Start crying
  • 4/5

मुकेश कुमार राय का कहना है कि जैसे ही आरओ आए मैं उनके रूम में गया. लेकिन आर. सज्जन ने कागजात लेने से मना कर दिया. जाप प्रत्याशी विजय प्रताप सिंह और भारतीय सबलोक पार्टी के प्रत्याशी जयनाथ प्रसाद यादव भी इसी तरह का आरोप आरओ आर. सज्जन पर लगा रहे थे. इन लोगों ने जिला मजिस्ट्रेट अरशद अजीज से अपनी शिकायत की लेकिन जिला मजिस्ट्रेट ने कारवाई करने से मना कर दिया है. 

 Nomination cancelled Candidate Start crying
  • 5/5

जिला मजिस्ट्रेट ने कहा जिन प्रत्याशियों को दिक्कत है वो सामान्य पर्यवेक्षक से मिल कर कहें. क्योंकि आरओ के कार्य में हस्तक्षेप करना उचित नहीं है. जब इस बारे में आरओ आर. सज्जन से पूछा गया तो उन्होंने कुछ भी बताने से इनकार कर दिया.