scorecardresearch
 

बंगाल के मुख्य सचिव की EC को रिपोर्ट- ममता के पैर में चोट कार के दरवाजे की वजह से लगी

इस रिपोर्ट में कहा गया कि ममता बनर्जी के पैर में चोट कार के दरवाजे की वजह से लगी थी. रिपोर्ट में सड़क पर भारी भीड़ जमा होने का भी जिक्र है. हालांकि, रिपोर्ट में इस बात का साफतौर पर जिक्र नहीं है कि कैसे कार का दरवाजा बंद होने से ममता का लेफ्ट पैर उसमें फंस गया. 

X
सीएम ममता बनर्जी सीएम ममता बनर्जी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बंगाल के मुख्य सचिव ने EC ने सौंपी रिपोर्ट
  • ममता बनर्जी को चोट लगने का मामला
  • रिपोर्ट में हमले का जिक्र नहीं

सीएम ममता बनर्जी को नंदीग्राम में चोट लगने का मामला चुनाव आयोग तक पहुंच चुका है. आयोग ने बीते दिन ही नंदीग्राम की घटना को लेकर पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव से 48 घंटे के भीतर रिपोर्ट मांगी थी. जिस पर आज बंगाल के मुख्य सचिव ने चुनाव आयोग को रिपोर्ट सौंपी. 

इस रिपोर्ट में कहा गया कि ममता बनर्जी के पैर में चोट कार के दरवाजे की वजह से लगी थी. हालांकि, रिपोर्ट में इस बात का साफ तौर पर जिक्र नहीं है कि कैसे कार का दरवाजा बंद होने से ममता का बायां पैर उसमें फंस गया. रिपोर्ट में सड़क पर भारी भीड़ जमा होने का भी जिक्र है.

रिपोर्ट में स्पष्ट रूप से यह भी नहीं बताया गया कि क्या कुछ लोगों ने जानबूझकर ममता की कार का दरवाजा बंद किया था. रिपोर्ट में कार के पास लोहे के खंभे के होने का उल्लेख है, लेकिन यह नहीं साफ हुआ कि क्या उसी पोल से रगड़ खाने के कारण दरवाजा बंद हुआ या फिर कोई और वजह रही. फिलहाल, इस रिपोर्ट पर चुनाव आयोग के अधिकारी चर्चा कर रहे हैं. 

गौरतलब है कि नंदीग्राम की घटना को लेकर शुक्रवार को पहले टीएमसी और फिर बीजेपी के प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग से मुलाकात की. मुलाकात के दौरान टीएमसी ने बीजेपी नेताओं के बयानों की शिकायत की और ममता बनर्जी की जान को खतरा बताया. वहीं बीजेपी ने 10 मार्च को हुई घटना का वीडियो सार्वजनिक करने की मांग की.

बीजेपी के प्रतिनिधिमंडल में शामिल भूपेंद्र यादव ने मीडिया से कहा कि नंदीग्राम संवदेनशील विधानसभा है. इसके लिए स्पेशल ऑब्जर्वर होना चाहिए. उन्होंने कहा कि सीएम ममता राज्य की होम मिनिस्टर भी हैं. हम चाहते हैं कि घटना की सच्चाई सामने आए और राज्य में साफ चुनाव हों.

आपको बता दें कि ममता बनर्जी ने 10 मार्च को नंदीग्राम सीट से नामांकन दाखिल किया था. इसके बाद शाम 6 बजे वह मंदिर गई थीं. मंदिर से निकलने के बाद जब वह गाड़ी में बैठी थीं, तभी कथित रूप से उन पर हमला हो गया. इसमें उनके पैर में चोट आई है. उनके बायें पैर में प्लास्टर चढ़ा है और उन्हें हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया. हालांकि, शुक्रवार को उन्हें हॉस्पिटल से छुट्टी मिल गई. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें