scorecardresearch
 

मुस्लिमों से वोट की अपील पर ममता को नोटिस, चुनाव आयोग ने 48 घंटे में जवाब मांगा

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में मुस्लिमों से वोट करने की अपील को लेकर ममता बनर्जी मुश्किल में फंस गई हैं. चुनाव आयोग ने सूबे की मुख्यमंत्री व टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी के खिलाफ नोटिस जारी किया है.

ममता बनर्जी को चुनाव आयोग ने नोटिस भेजा है. (फाइल फोटो) ममता बनर्जी को चुनाव आयोग ने नोटिस भेजा है. (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • महुआ मोइत्रा ने ट्वीट कर चुनाव आयोग से पूछा सवाल
  • EC ने 48 घंटे के भीतर ममता से मांगा जवाब
  • मुस्लिमों से वोट की ममता ने की थी अपील

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में मुस्लिमों से वोट करने की अपील को लेकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी मुश्किल में फंस गई हैं. चुनाव आयोग ने टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी के खिलाफ नोटिस जारी किया है. चुनाव आयोग ने इस मामले में ममता से 48 घंटे के भीतर जवाब मांगा है.

दरअसल, ममता ने रायदिघी की एक चुनावी जनसभा में मुस्लिम समाज से वोट न बांटने की बात कहते हुए टीएमसी के पक्ष में एकजुट होकर मतदान की अपील की थी. ममता के इस बयान के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने उन्हें घेर लिया था. पीएम मोदी ने बंगाल की एक रैली में कहा था कि अगर हम हिंदू वोटरों से एकजुट होने की बात  कह देते तो चुनाव आयोग के नोटिस आ जाते. 

पीएम मोदी की इस टिप्पणी के बाद इस मामले को हवा मिली. वहीं, दूसरी तरफ बीजेपी ने चुनाव आयोग से इसकी शिकायत कर दी. जिस पर चुनाव आयोग ने ममता बनर्जी को नोटिस जारी कर 48 घंटे के अंदर जवाब मांगा है.

बंगाल क्विज़

उधर, ममता बनर्जी को चुनाव आयोग की तरफ से मिले नोटिस के बाद टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा ने ट्वीट कर चुनाव आयोग से  सवाल पूछा है. उन्होंने ट्वीट किया है कि ममता दीदी को बीजेपी की शिकायत पर नोटिस भेजा गया है. लेकिन टीएसमी की उस शिकायत का क्या जिसमें बीजेपी उम्मीदवार की तरफ से कैश बांटने का वीडिया सबूत के तौर पर पेश किया गया था. इसके अलावा बीजेपी की तरफ से कैश कूपन बांटने की शिकायत के मामले का क्या हुआ? जेंटलमेन - कम से कम निष्पक्षता के अंतर को बनाए रखें!


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें