scorecardresearch
 

श्रीराम देश की 'आन-बान-शान', ममता को इस नारे से क्या दिक्कत: शुभेंदु अधिकारी

शुभेंदु अधिकारी ने कहा लेकिन सीएम ममता बनर्जी को मुझसे वादा करना होगा कि वह केवल नंदीग्राम से ही चुनाव लड़ेंगी. भवानीपुर से चुनाव ना लड़ना, मैं भी हिम्मत देखूं.

शुभेंदु अधिकारी (फाइल फोटो-PTI)  शुभेंदु अधिकारी (फाइल फोटो-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • शुभेंदु अधिकारी बोले- ममता को बड़े अंतर से हराऊंगा
  • पूछा- जय श्रीराम के नारे से क्या समस्या है?
  • टीएमसी को बताया निजी लिमिटेड कंपनी

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव से पहले सियासी बयानबाजी का दौर जारी है. इस बीच हाल ही में टीएमसी से बीजेपी में शामिल हुए शुभेंदु अधिकारी ने सीएम ममता बनर्जी पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि, 'मैं नंदीग्राम में ममता बनर्जी को हराऊंगा. मुझसे लिखित में ले लो. छोटे अंतर से नहीं बल्कि डेढ़ लाख से ज्यादा वोटों से हराऊंगा. शुभेंदु ने जय श्रीराम के नारे पर भी सीएम ममता पर तंज कसा. उन्होंने कहा कि श्रीराम देश की 'आन-बान-शान' हैं, आखिर ममता को उनके नारे से क्या दिक्कत है? 

अमित शाह के साथ हिंदू धर्म पर बहस की ममता की चुनौती पर शुभेंदु ने कहा कि अमित शाह इस सवाल का बेहतर जवाब देंगे. लेकिन पिछले 2-3 सालों से ममता ने जय श्रीराम के नारे सुनते ही विरोध और आपत्ति जताई है. जय श्रीराम हमारे देश की 'आन-बान-शान' है. 

शुभेंदु ने आगे कहा लेकिन सीएम ममता को मुझसे वादा करना होगा कि वह केवल नंदीग्राम से ही चुनाव लड़ेंगी. भवानीपुर से चुनाव ना लड़ना, मैं भी हिम्मत देखूं.

यही नहीं, नेताजी की जयंती के मौके पर कोलकाता में ममता बनर्जी के जय श्रीराम के नारे लगाए जाने पर भी शुभेंदु ने टिप्पणी की.  

शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि कुछ कार्यकर्ताओं ने विक्टोरिया मेमोरियल में जय श्रीराम के नारे लगाए थे, तो इसमें समस्या क्या है? यह कोई अपमानजनक नारा नहीं है. क्या पश्चिम बंगाल में लोग जय श्रीराम नहीं बोल सकते? आखिर दीदी को इतना गुस्सा क्यों आया? बीजेपी नेता शुभेंदु ने आगे कहा कि ममता के पास अपना एक दिमाग नहीं है. वह बिहार से किसी को लेकर आईं हैं. सच तो यह है कि 500 करोड़ रुपए में चुनाव तक दिमाग उधार लिया गया है. 

देखें: आजतक LIVE TV

नंदीग्राम से चुनाव लड़ने के सवाल पर इंडिया टुडे से अधिकारी ने कहा कि यह तो बीजेपी तय करेगी. पार्टी को तय करना है कि नंदीग्राम से मैं खड़ा हो सकता हूं या कोई और. लेकिन जो भी कमल के निशान पर नंदीग्राम से चुनाव लड़ेगा वह जीतेगा. क्योंकि हमारे सामने टीएमसी नाम की एक निजी लिमिटेड कंपनी है. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें