scorecardresearch
 

‘मैंने उन्हें सैल्यूट किया और उन्होंने मुझे’, जुल्फिकार ने बताई PM के साथ वायरल फोटो की कहानी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात कर रहे एक मुस्लिम युवक की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. इसी तस्वीर के बहाने विरोधी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेर भी रहे हैं. लेकिन इस तस्वीर में जो युवक है ज़ुल्फिकार अली, उसने पीएम मोदी पर सवाल उठाने वाले लोगों को खरी खोटी सुनाई है. 

बंगाल चुनाव में मुद्दा बन गई है पीएम मोदी की ये तस्वीर (फोटो: PTI) बंगाल चुनाव में मुद्दा बन गई है पीएम मोदी की ये तस्वीर (फोटो: PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बंगाल चुनाव में एक खास तस्वीर की चर्चा
  • पीएम मोदी संग मुस्लिम युवक की फोटो वायरल

पश्चिम बंगाल में जारी चुनावी दंगल के बीच एक तस्वीर की चर्चा लगातार हो रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात कर रहे एक मुस्लिम युवक की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. इसी तस्वीर के बहाने विरोधी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेर भी रहे हैं. लेकिन इस तस्वीर में जो युवक है, ज़ुल्फिकार अली, उसने पीएम मोदी पर सवाल उठाने वाले लोगों को खरी खोटी सुनाई है. 

दरअसल, पश्चिम बंगाल के साउथ 24 परगना में जब बीते दिनों पीएम मोदी रैली संबोधित करने गए तब जुल्फिकार ने पीएम मोदी से मुलाकात की थी.

इंडिया टुडे से बातचीत में जुल्फिकार अली ने बताया कि उस तस्वीर में पीएम मोदी के साथ मैं ही हूं, मैं लंबे वक्त से बीजेपी के साथ जुड़ा हुआ हूं और कभी नहीं सोचा था कि पीएम से मिल पाऊंगा. मैंने उन्हें सैल्यूट किया, फिर पीएम ने भी मुझे सैल्यूट किया. 

पीएम मोदी और जुल्फिकार के बीच सिर्फ 40 सेकेंड की बात हुई. जुल्फिकार के मुताबिक, पीएम मोदी ने उनसे उनका नाम पूछा और कहा कि कुछ चाहिए. मैंने पीएम को कहा कि मुझे कोई टिकट नहीं चाहिए, सिर्फ आपके साथ तस्वीर खिंचाना चाहता हूं. फिर उन्होंने मेरे साथ तस्वीर खिंचवाई. 

साउथ कोलकाता में बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा के जिलाध्यक्ष हैं जुल्फिकार


बता दें कि इन्हीं तस्वीरों पर सोशल मीडिया पर काफी मीम बने, साथ ही विरोधियों ने जमकर सवाल खड़े किए. फोटो के साथ ‘कागज़ नहीं दिखाएंगे’ वाले मीम पर जुल्फिकार ने कहा कि ये मेरी वोटर आईडी है और मैं कागज़ भी दिखा रहा हूं. जो लोग टोपी पहनकर तस्वीर खिंचाने को फोटो ऑप कह रहे हैं, उन्हें समझना चाहिए कि सिर्फ टोपी पहनने से मुसलमान नहीं होते हैं. 

जुल्फिकार ने कहा कि कई नेता सिर्फ दिखाने के लिए टोपी पहनते हैं, तब मेरी टोपी जेब में थी इसलिए मैंने पहन ली. आपको बता दें कि जुल्फिकार अली बंगाल के साउथ कोलकाता जिले में बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रेसिडेंट हैं. अब पीएम के साथ खिंची अपनी तस्वीर को उन्होंने फ्रेम करवा लिया है. 

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की इस तस्वीर को लेकर AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने भी तंज कसा था. ओवैसी ने अपनी एक रैली में कहा था कि उस युवक ने पीएम मोदी से बोला होगा कि हम कागज़ नहीं दिखाएंगे. साथ ही अन्य विपक्षी दल भी इस तस्वीर को लेकर तंज कसते नज़र आए.

 
 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें