scorecardresearch
 

इस एप की मदद से स्टूडेंट्स कर सकते हैं NEET की तैयारी

NEET की तैयारी कर रहे स्टूडेंट्स की मदद के लिए एक एप लॉन्च किया गया है. यहां वीड‍ियो फॉर्मेट में लेक्चर दिए गए हैं तो मॉक टेस्ट का फीचर भी जोड़ने की तैयारी है...

App for NEET Preparation App for NEET Preparation

इन दिनों पूरे देश में नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (NEET) को लेकर स्टूडेंट्स और उनके अभिभावकों में मायूसी और परेशानी को माहौल है.

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद खास कर महाराष्ट्र के स्टूडेंट्स में निराशा है. उलझन इस बात की है कि दो साल की तैयारी दो महीने में कैसे करें? महाराष्ट्र सरकार ने कोर्ट के फैसले को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका जरूर दाखिल की थी लेकिन उसे भी खारिज कर दिया गया. हालांकि स्टूडेंट्स का मनोबल बढ़ाने और थोड़ी राहत पहुंचाने के लिए एक मोबाइल एप बनाया गया है. रोबोमेट प्लस स्पेशल फॉर नीट नामक यह एप स्टूडेंट्स को नीट परीक्षा की तैयारी में मदद करेगा.

रोबोमेट प्लस उन लाखों स्टूडेंट्स के लिए बड़ी राहत है जो इन दिनों मेडिकल एंट्रेंस की उलझन में फंसे हैं. महाराष्ट्र में मेडिकल में दाखिला के लिए MHCET की एंट्रेंस परीक्षा पास करनी होती थी लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने उस पर रोक लगाते हुए दाखिले के लिए नीट परीक्षा को अनिवार्य कर दिया. पिछले कई महीनों से छात्र MHCET की तैयारी कर रहे थे, लेकिन अब उनके सामने दो साल का कोर्स दो महीने में पूरा करने की चुनौती है.

स्टूडेंट्स की इसी समस्या को ध्यान में रखते हुए, रोबोमेट प्लस ने नीट की तैयारी कराने वाले अनुभवी प्रोफेसरों की मदद से रोबोमेट प्लस स्पेशल फॉर नीट नामक एप को तैयार किया गया है. यह कम समय में स्टूडेंट्स को नीट की तैयारी कराने में मदद करेगा. प्रोफेसर रेणु के मुताबिक, 'हमने ध्यान रखा है कि बच्चों को कहां मुश्किलें आती हैं, हर विषय को मॉड्यूल में बाटा गया है.'

इस एप के लिए आपको अपने मोबाइल पर जाकर फ्री में रोबोमेट ऍप्लिकेशन को डाउनलोड करना होगा. एप डाउनलोड हो जाने के बाद नीट पर जाकर हर चैप्टर के हिसाब से लेक्चर ले सकते हैं. इस तरह कोच‍िंग के लिए ज्यादा खर्च भी नहीं करना पड़ेगा.

इस एप को तैयार कराने वाले ग्लोबल एजुकेशन ट्रस्ट के अध्यक्ष श्रेणिक कोटेचा के मुताबिक, 'वीडियो फॉर्मेट में लेक्चर्स होने की वजह से बच्चे बड़ी आसानी और रुचि के साथ सब जल्दी से सीख जाते हैं. जल्द ही हम मॉक टेस्ट के पेपर भी एप में अपलोड कर देंगे ताकि स्टूडेंट्स परीक्षा की तैयारी कर सकें.'

गौरतलब है जब से पूरे देश में नीट की परीक्षा की बात सामने आई है तब से कोचिंग क्लासेज भी मनमानी पैसे वसूलने लगे हैं. लगभग हर क्लास, नीट की तैयारी के लिए दो महीने के लिए 50 हजार से एक लाख तक की फीस ले रहे हैं. ऐसे में अभिभावकों ने भी इस एप की सरहाना की है. फिलहाल यह एप एंड्रॉयड फोन पर निशुल्क उपलब्ध है और जल्द ही यह विंडोज और एप्पल के फोन के लिए भी उपलब्ध होगा. इस एप पर कुल 300 घंटे के लेक्चर अपलोड किए गए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें