scorecardresearch
 

Board Result: 58 साल की उम्र में पास की 10वीं की बोर्ड परीक्षा, 40 साल बाद पूरी हुई बचपन की तमन्ना

फूलबनी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से बीजद विधायक कन्हार ने मैट्रिक की परीक्षा में 500 अंकों में 364 अंक हासिल किए हैं. वह कंधमाल जिले के फूलबनी में ए.जे.ओ हाई स्कूल में परीक्षा देने के लिए शामिल हुए थे.

X
MLA Angad Kanhar MLA Angad Kanhar
स्टोरी हाइलाइट्स
  • फूलबनी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से बीजद विधायक हैं कन्हार
  • संस्कृत में सबसे ज्‍यादा 84 नंबर और अंग्रेजी में सबसे कम 57 नंबर मिले

एक बड़ी मशहूर कहावत है कि शिक्षा ग्रहण करने की कोई उम्र नहीं होती. इसी कहावत को ओडिशा के 58 वर्षीय विधायक अंगद कन्हार ने चरितार्थ कर दिया है. उन्‍होंने आखिरकार 10वीं की बोर्ड परीक्षा पास कर ली है. फूलबनी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से बीजद विधायक कन्हार ने मैट्रिक की परीक्षा में 500 अंकों में 364 अंक हासिल किए हैं. वह कंधमाल जिले के फूलबनी में ए.जे.ओ हाई स्कूल में परीक्षा देने के लिए शामिल हुए थे.

B1 ग्रेड से पास की परीक्षा
विधायक कन्हार ने माध्यमिक बोर्ड परीक्षा B1 ग्रेड के साथ पास की है. उनके स्कोरकार्ड के अनुसार, उन्‍हें संस्कृत में सबसे ज्‍यादा 84 नंबर और अंग्रेजी में सबसे कम 57 नंबर मिले हैं. उन्हें गणित और सामाजिक विज्ञान दोनों विषयों में 78 और विज्ञान में 67 नंबर मिले हैं.

पेशे से किसान हैं कन्हार 
कन्हार ने पारिवारिक कारणों से 1987 में शिक्षा छोड़ दी थी. इसके बाद उन्‍होंने बपचन की आधूरी 10वीं पास करने की तमन्ना को 40 साल बाद 2022 में पूरा कर लिया. जैसे ही परीक्षा परिणाम घोषित हुआ, कन्हार अपना रिजल्‍ट जानकर सीधे गांव के मंदिर में पूजा करने के लिए गए. आजतक  से बात करते हुए उन्‍होंने अपनी मैट्रिक की परीक्षा सफलतापूर्वक पूरी करने और प्रथम श्रेणी हासिल करने पर प्रसन्नता व्यक्त की.

उन्‍होंने कहा, ''शिक्षा हासिल करने या नई चीजें सीखने की कोई उम्र नहीं होती. शिक्षा न सिर्फ भविष्य में नौकरी पाने के लिए बल्कि ज्ञान हासिल करने के लिए भी जरूरी है." बता दें कि ओडिशा के माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने बुधवार को मैट्रिक परीक्षाओं के रिजल्‍ट कि घोषणा की है. बोर्ड की परीक्षा का आयोजन इस वर्ष ऑफलाइन मोड पर किया गया था.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें