scorecardresearch
 

MP: स्कूलों में पढ़ाई जाएंगी भगवान परशुराम के जीवन से जुड़ी बातें, सीएम शिवराज का ऐलान

परशुराम जयंती पर भोपाल के गुफा मंदिर में परशुराम की सबसे ऊंची 21 फीट की अष्ट धातु से निर्मित मूर्ति के अनावरण के मौके पर सीएम शिवराज ने बड़ा ऐलान किया.

X
सीएम शिवराज सिंह चौहान सीएम शिवराज सिंह चौहान
स्टोरी हाइलाइट्स
  • भगवान परशुराम जयंती पर की गई घोषणा
  • भगवान परशुराम को विष्णु का छठा अवतार माना जाता है

मध्य प्रदेश के स्कूली पाठ्यक्रमों में अब जल्दी भगवान परशुराम के जीवन से जुड़ी हुई बातों को पढ़ाया जाएगा. यह घोषणा खुद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भगवान परशुराम जयंती पर की है.

परशुराम जयंती पर भोपाल के गुफा मंदिर में परशुराम की सबसे ऊंची 21 फीट की अष्ट धातु से निर्मित मूर्ति के अनावरण के मौके पर सीएम शिवराज ने बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि मैं तत्काल पाठ्यक्रम समिति को बुलाकर निर्देश दूंगा कि भगवान परशुराम जी के चरित्र का पाठ, पाठ्यक्रम में सम्मिलित किया जाए. सब बच्चे पढ़ें, क्या दिक्कत है? संस्कृत पढ़ें, भगवान परशुराम पढ़ें, भगवान राम पढ़ें, भगवान कृष्ण पढ़ें, भगवान गीता पढ़ें; इसमें क्या आपत्ति हो सकती है. यह सनातन संस्कृति है, हमारी. यह संस्कृति पढ़ाई जानी चाहिए. भगवान परशुराम जी का पाठ पढ़ाया जाएगा. उनका चरित्र, उन्होंने जो काम किया है; वह तो सदैव रहने वाले हैं, कर रहे है.

बताते चलें कि आज भगवान परशुराम की जयंती मनाई जा रही है. भगवान परशुराम का जिक्र रामायण, महाभारत और कल्कि पुराण तीनों में है. हिंदू पौराणिक कथाओं के अनुसार भगवान परशुराम को विष्णु का छठा अवतार माना जाता है. परशुराम को महानता और वीरता का प्रतीक माना जाता है. परशुराम जयंती वैशाख महीने के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाई जाती है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें