scorecardresearch
 

NEET 2020: काउंसिलिंग शेड्यूल जारी, जानें रजिस्ट्रेशन की पूरी प्रोसेस

NEET UG Counselling 2020 के लिए केवल मेडिकल काउंसलिंग समिति की वेबसाइट के जरिये आवेदन ऑनलाइन जमा किया जा सकता है. इसका लिंक mcc.nic.in है.

NEET UG Counselling 2020 NEET UG Counselling 2020

NEET 2020: नीट परीक्षा पास करने वाले उम्मीदवारों के लिए  ऑनलाइन काउंसलिंग (अलॉटमेंट प्रक्रिया) का शेड्यूल आधिकारिक वेबसाइट पर जारी कर दिया गया है. इसके लिए लिंक mcc.nic.in है. इसके तहत NEET की UG काउंसलिंग 2020 के लिए आवेदन केवल चिकित्सा परामर्श समिति की वेबसाइट www.mcc.nic.in के माध्यम से ऑनलाइन जमा किया जा सकता है. किसी अन्य मोड के माध्यम से प्रस्तुत आवेदन को सरसरी तौर पर खारिज कर दिया जाएगा. इसके लिए पूरी  आधिकारिक सूचना पढ़ें. 

NEET 2020 काउंसलिंग: 15 प्रतिशत ऑल इंडिया कोटा

AIQ ऑनलाइन काउंसलिंग के दो राउंड होंगे यानी राउंड 1 और राउंड 2. वे सभी अभ्यर्थी जो J & K सहित केंद्र शासित प्रदेश को छोड़कर राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (NTA) द्वारा आयोजित NEET UG में अपनी रैंक के आधार पर अखिल भारतीय कोटा सीटों के लिए योग्य हैं, काउंसिलिंग के पात्र होंगे. 

देखें: आजतक LIVE TV 

योग्य उम्मीदवार एनटीए की वेबसाइट से रैंक पत्र / परिणाम डाउनलोड कर सकते हैं. पात्र उम्मीदवारों की कट-ऑफ रैंक MCC वेबसाइट (www.mcc.nic.in) पर भी उपलब्ध होगी. AIQ के राउंड 2 के बाद खाली रहने वाली सीटों को संबंधित राज्यों को वापस भेज दिया जाएगा. बता दें कि ये काउंसिलिंग 15 प्रतिशत ऑल इंडिया कोटा / Deemed / Central Universities / AIIMS और JIPMER / ESIC और AFMC में MBBS और BDS सीटों के लिए होगी. 

AIQ में शामिल हैं:

राज्यों की 15 प्रतिशत एमबीबीएस / बीडीएस सीटें
बीएचयू की 100 फीसदी एमबीबीएस / बीडीएस सीटें
पूरे भारत में AIIMS की 100 प्रतिशत एमबीबीएस सीटें) JIPMER (पुदुचेरी / काराणिक) का अखिल भारतीय कोटा
एएमयू / डीयू / वीएमएमसी / एबीवीआईएमएस की अखिल भारतीय कोटा सीटें
अखिल भारतीय कोटा सीटें दंत चिकित्सा संकाय (जामिया मिल्लिया इस्लामिया)
ईएसआईसी की अखिल भारतीय कोटा सीटें

NEET 2020 काउंसलिंग प्रक्रिया के लिए पंजीकरण कैसे करें:

उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि वो एनटीए के ऑनलाइन आवेदन पत्र में दिया गया ई-मेल एड्रेस और मोबाइल नंबर काउंसिलिंग के लिए एमसीसी पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन के लिए उपयोग करें. 


केवल पंजीकृत ई-मेल पते या एसएमएस पर डीजीएचएस, एमओएचएफडब्ल्यू के एमसीसी द्वारा सभी जानकारी / कम्यूनिकेशन को रजिस्टर्ड नंबर पर एसएमएस से भेजी जाएगी. 
DGHS, MoHFW के MCC द्वारा रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर या ईमेल पते के परिवर्तन के संबंध में किसी भी शिकायत पर विचार नहीं किया जाएगा. 


उम्मीदवारों को किसी भी तकनीकी जटिलताओं से बचने के लिए रजिस्ट्रेशन और विकल्प भरने की प्रक्रिया के दौरान लैपटॉप या कंप्यूटर का उपयोग करने की सलाह दी जाती है. 

ये भी पढ़ें

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें