scorecardresearch
 

उत्तर प्रदेश: कानपुर में सरेआम युवक की गोली मारकर हत्या, हमलावर फरार

कानपुर में सरेआम एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई. वारदात को तीन बाइक सवार बदमाशों ने कानपुर के चकेरी थाना इलाके के सतबरी रोड पर अंजाम दिया. तीनों बदमाश बाइक पर आए और युवक के सिर में गोली मार दी.

CCTV फुटेज में नजर आ रहे हैं आरोपी CCTV फुटेज में नजर आ रहे हैं आरोपी

  • मृतक करण का सौरभ यादव व उसके साथियों से झगड़ा हुआ था
  • पिता ने थानाध्यक्ष पर लगाया हत्या की साजिश रचने का आरोप

  • मौके पर पहुंची पुलिस काफी देर तक सीमा विवाद में उलझी रही

कानपुर में सरेआम एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई. वारदात को तीन बाइक सवार बदमाशों ने कानपुर के चकेरी थाना क्षेत्र के सतबरी रोड पर अंजाम दिया. तीनों बदमाश बाइक पर आए और युवक के सिर में गोली मार दी. वारदात को अंजाम देते ही आरोपी घटनास्थल से फरार हो गए.

मारे गए युवक का नाम करण चंद्र है. करण के पिता एक सीओडी कर्मचारी हैं. वहीं वारदात के बाद मौके पर पहुंची पुलिस काफी देर तक सीमा विवाद में उलझी रही. मृतक के परिजनों का आरोप है कि दरोगा की शह पर करण की हत्या की गई है.

बीते दिनों करण का सौरभ यादव और उसके साथियों से झगड़ा हुआ था. करण के पिता का आरोप है कि पुलिस ने उसे गलत तरीके से जेल भेजा था. इसी बात को लेकर विवाद बढ़ गया था. करण के पिता ने तत्कालीन थानाध्यक्ष बिधनू अनुराग सिंह पर हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाया है. उनका कहना है कि क्षेत्रीय दबंगों के साथ मिल कर दरोगा ने अनुराग सिंह की हत्या करवाई है.

इलाके में लगे CCTV फुटेज में आरोपी भागते हुए नजर आ रहे हैं. वहीं मौके पर पहुंची पुलिस काफी देर तक सीमा विवाद में उलझी रही. बिधनू और चकेरी थाने के बीच सीमा विवाद के चलते काफी देर हो गई जिसके कारण युवक तड़पता रहा. सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल करण को हाथ नहीं लगाया. काफी समय तक वह औंधे मुंह सड़क पर पड़ा रहा.

अधिकारियों के दखल देने के बाद उसे काशीराम अस्पताल भेजा गया लेकिन अस्पताल पहुंचने से पहले ही उसने दम तोड़ दिया. पुलिस गोली मारने वालों की जल्द शिनाख्त कर कार्रवाई करने का दावा कर रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें