scorecardresearch
 

कानपुर के बाद अब गोरखपुर, 1 करोड़ की फिरौती के लिए 5वीं के छात्र की हत्या

पुलिस टीम और एसटीएफ छापेमारी करती रही और अपहर्ताओं ने बच्चे की हत्या कर दी. एसटीएफ ने बच्चे का शव बरामद कर लिया है. पुलिस के मुताबिक रविवार की शाम 5 बजे के आसपास ही बच्चे की हत्या कर दिए जाने की आशंका है.

प्रतीकात्मक तस्वीर (PTI) प्रतीकात्मक तस्वीर (PTI)

  • एसटीएफ ने बरामद किया बच्चे का शव
  • तलाश में जुटी थीं पुलिस की कई टीमें

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की कर्मभूमि गोरखपुर में पांचवीं कक्षा के एक छात्र की अपहरण कर हत्या कर दिए जाने की घटना सामने आई है. बच्चे को अपहरणकर्ताओं के चंगुल से मुक्त कराने का ऑपरेशन चला रही स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने बच्चे का शव बरामद कर लिया है. बदमाशों की तलाश की जा रही है.

जानकारी के मुताबिक गोरखपुर के एक पान विक्रेता के बेटे का 26 जुलाई को अपहरण कर लिया था. अपहरणकर्ताओं ने पान विक्रेता से एक करोड़ की फिरौती मांगी थी. मुख्यमंत्री की कर्म भूमि में अपहरण की घटना सामने आने पर हरकत में आई पुलिस ने बच्चे की बरामदगी के लिए कई टीमें गठित कर दीं. बच्चे को अपहर्ताओं के चंगुल से मुक्त कराने के लिए एसटीएफ को भी एक्टिव कर दिया गया. पुलिस टीम और एसटीएफ छापेमारी करती रही और अपहर्ताओं ने बच्चे की हत्या कर दी.

यूपी में बढ़ीं किडनैपिंग की घटनाएं, कानपुर-गोंडा के बाद अब नोएडा से 10 साल का बच्चा लापता

एसटीएफ ने बच्चे का शव बरामद कर लिया है. पुलिस के मुताबिक रविवार की शाम 5 बजे के आसपास ही बच्चे की हत्या कर दिए जाने की आशंका है. इस घटना को लेकर विपक्षी कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर हमला बोला है. प्रियंका ने ट्वीट कर सवाल किया है कि क्या यूपी के मुखिया ने खबरें देखना छोड़ दिया है? क्या गृह विभाग में बैठे लोगों के सामने ये खबरें नहीं जाती?

सहारनपुरः गंगोह में सर्राफा कारोबारी को बंधक बनाकर लाखों लूटे

प्रियंका ने जंगलराज का आरोप लगाया है. वहीं, विपक्षी समाजवादी पार्टी ने भी योगी सरकार पर हमला बोला है. सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट कर घटना पर दुख जताया है. गौरतलब है कि प्रदेश में अपहरण के बाद हत्या की यह दूसरी वारदात है. इससे पहले कानपुर में भी अपहरणकर्ताओं ने एक लैब टेक्निशियन की अपहरण के बाद हत्या कर दी थी, एक बच्चे के अपहरण की घटना गोंडा में भी सामने आई थी. हालांकि पुलिस ने बच्चे को अपहर्ताओं के चंगुल से सुरक्षित मुक्त करा लिया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें