scorecardresearch
 

कानपुर मुठभेड़ के बाद एक्शनः दर्जनों लोग हिरासत में, 500 मोबाइल सर्विलांस पर

कानपुर में पुलिसकर्मियों की मौत का बदला लेने के लिए यूपी पुलिस ने कमर कस ली है. पूरे बिकरू गांव में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है. घटना के बाद से ही गांव और आस-पास के इलाकों में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है.

पुलिस टीम पर हुए इस हमले में 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए  (फोटो- हरीश) पुलिस टीम पर हुए इस हमले में 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए (फोटो- हरीश)

  • गुरुवार की रात कानपुर के गांव में पुलिस मुठभेड़
  • मुठभेड़ में सीओ समेत 8 पुलिसकर्मी हुए शहीद

कानपुर मुठभेड़ में एक पुलिस उपाधीक्षक समेत 8 पुलिसकर्मियों के शहीद होने के बाद पुलिस एक्शन में आ गई है. पुलिस ने मोस्ट वॉन्टेड विकास दुबे के गांव से दर्जनों लोगों को हिरासत में लिया है. उनसे घटना क्रम और हमले के मास्टर माइंड विकास के बारे में पूछताछ किए जाने की तैयारी है. साथ पुलिस ने करीब पांच सौ मोबाइल फोन नंबर सर्विलांस पर लगाए हैं.

कानपुर में पुलिसकर्मियों की मौत का बदला लेने के लिए यूपी पुलिस ने कमर कस ली है. पूरे बिकरू गांव में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है. घटना के बाद से ही गांव और आस-पास के इलाकों में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है. गांव से करीब 2 दर्जन लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है. यही नहीं पुलिस की फोरेंसिक टीम भी मौका-ए-वारदात पर छानबीन कर रही है.

कानपुर एनकाउंटर: खुफिया तंत्र विफल-मुखबिर नाकाम, बदमाशों को थी दबिश की खबर!

कुख्यात बदमाश विकास दुबे और उसके साथियों की धरपकड़ के लिए पुलिस ने करीब 500 मोबाइल फोन नंबर सर्विलांस पर लगाएं है. कई मोबाइल फोन ट्रैक किए जा रहे हैं. पुलिस हमलावर बदमाशों को पकड़ने के लिए आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल कर रही है.

उत्तर प्रदेश पुलिस के महानिदेशक (DGP) हितेश चंद्र अवस्थी ने बताया कि आला अधिकारी मौके पर हैं. पुलिस कई टीमें बदमाशों की तलाश में जुटी हैं. साथ ही स्पेशल टास्क फोर्स को विकास दुबे के पीछे लगाया गया है. फॉरेंसिक टीम को मौके से खोखे भी मिले हैं. जिससे देखकर निश्चित रूप से कहा जा सकता है कि बदमाशों ने पुलिस के खिलाफ किसी सोफिस्टिकेटेड वेपन का इस्तेमाल किया है.

ज़रूर पढ़ेंः कानपुर में बदमाश को पकड़ने गई पुलिस टीम पर फायरिंग, DSP समेत 8 शहीद

डीजीपी अवस्थी के मुताबिक पूरे जनपद की सीमाओं पर नाकेबंदी की गई है. बदमाशों को पकड़ने के लिए व्यापक ऑपरेशन चलाया जा रहा है. घायल पुलिसकर्मियों को बेहतर इलाज मिले, इसके लिए खास इंतजाम किए गए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें