scorecardresearch
 

अयोध्या: बाबरी मस्जिद के मॉडल ने उड़ाए प्रशासन के होश

अयोध्या में बाबरी मस्जिद का एक मॉडल बनवाए जाने की खबर ने पुलिस प्रशासन के होश उड़ा दिए. हालांकि बाद में अधिकारियों ने मामला संभाल लिया.

मस्जिद का मॉडल एक धार्मिक आयोजन के मौके पर प्रदर्शित किया गया मस्जिद का मॉडल एक धार्मिक आयोजन के मौके पर प्रदर्शित किया गया

अयोध्या में मंदिर निर्माण के लिए पत्थर लाने और तराशने का काम शुरू होने के बाद, अब मुस्लिम पक्ष ने बाबरी मस्जिद का एक मॉडल बनवाया है. जिसे सार्वजनिक तौर पर प्रदर्शित किया जा रहा है. इस खबर से पूरे जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया है.

दरअसल, विहिप ने जब मंदिर निर्माण के लिए शिलाएं और पत्थर मंगाना शुरु किया, वैसे ही मस्जिद के पक्षकारों ने भी पत्थर मंगवाने का ऐलान किया था. गुरुवार को पैगंबर हजरत मोहम्मद साहब की जयंती के मौके पर काजियान मोहल्ले में नूरानी कमेटी की तरफ से एक मंच सजाया गया. जिस पर बाबरी मस्जिद का मॉडल भी प्रदर्शित किया गया.

जिस जगह मंच सजाया गया, वह जगह विवादित स्थल से महज दो सौ मीटर की दूरी पर है. मस्जिद के मॉडल की खबर मिलते ही पुलिस प्रशासन हरकत में आ गया. अधिकारी मौके पर पहुंच गए और स्वत: संज्ञान लेते हुए मस्जिद के मॉडल पर लगी बाबरी मस्जिद की पट्टी हटा दी. इस बात को लेकर मुस्लिम पक्ष ने ऐतराज जताया लेकिन अधिकारियों ने समझा बुझाकर मामला शांत करवा दिया.

एडीएम सिटी राम निवास शर्मा ने बताया कि मामला प्रशासन के संज्ञान में है. मॉडल में लगी पट्टी को हटवा दिया गया है. आयोजन परम्परागत और शांतिपूर्ण ढंग से चल रहा है. सुरक्षा के मद्देनजर भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है.

इस मामले में आयोजन से जुड़े लोगों ने आपत्ति करते हुए थाना रामजन्म भूमि पुलिस को मौखिक शिकायत भी की. संवेदनशील हालात को देखते हुए जिले के तमाम आलाधिकारी फौरन थाना रामजन्म भूमि पहुंच गए और पूरे मामले की जानकारी लेने के बाद शिकायत करने वालों को सर्वाजनिक स्थल पर बाबरी मस्जिद या राम मंदिर का मॉडल न लगाने की बात कह कर मामला शांत करा दिया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×