scorecardresearch
 

ट्रेन में कत्लः सीट को लेकर हुआ था विवाद, बीफ को लेकर मारा तंज फिर चाकू से किया हमला

दिल्ली से मथुरा जा रही ईएमयू ट्रेन में बीफ खाने का आरोप लगाते हुए युवक की हत्या मामले में चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है. इस हमले में घायल हुए एक अन्य युवक ने बताया कि ट्रेन में सफर कर रहे कुछ युवकों ने पहले तो उनके पहनावे को लेकर अभद्र टिप्पणी की और फिर बाद में उन्हें बीफ खाने वाला बताने लगे. हमलावरों ने उन्हें पाकिस्तान जाने को कहा. वहीं घटना के दौरान ट्रेन में सफर कर रहे लोग पीड़ितों की मदद के बजाय हमलावरों को और उकसा रहे थे.

X
बीफ खाने को लेकर मारा था तंज बीफ खाने को लेकर मारा था तंज

दिल्ली से मथुरा जा रही ईएमयू ट्रेन में बीफ खाने का आरोप लगाते हुए युवक की हत्या मामले में चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है. इस हमले में घायल हुए एक अन्य युवक ने बताया कि ट्रेन में सफर कर रहे कुछ युवकों ने पहले तो उनके पहनावे को लेकर अभद्र टिप्पणी की और फिर बाद में उन्हें बीफ खाने वाला बताने लगे. हमलावरों ने उन्हें पाकिस्तान जाने को कहा. वहीं घटना के दौरान ट्रेन में सफर कर रहे लोग पीड़ितों की मदद के बजाय हमलावरों को और उकसा रहे थे.

23 वर्षीय पीड़ित युवक शाकिर ने रोते हुए बताया, 'आरोपियों ने हमारे सिर से टोपी उतारकर फेंक दी और वे मेरे भाई की दाढ़ी खींचने लगे. वह हमें बार-बार ताने मारे जा रहे थे कि हम बीफ खाते हैं. हमारे गांव में बीफ पकाया तक नहीं जाता है लेकिन फिर भी हमें ताने मारे जा रहे थे. जैसे ही हम बल्लभगढ़ पहुंचे तो उन्होंने चाकू निकाल लिए. वह सभी हमसे बड़े थे जिसकी वजह से हम कुछ नहीं कर पाए. एक व्यक्ति ने पहले जुनैद पर कई बार चाकू से हमला किया और फिर उसके बाद हाशिम और मुझ पर हमला कर दिया.' शाकिर को पांच बार चाकू मारा गया जिसमें से एक उसके सीने पर लगा.

हमला करने के बाद आरोपियों ने उन्हें असौती स्टेशन पर फेंक दिया. राहगीरों की मदद से उन्हें अस्पताल पहुंचाया गया. अस्पताल पहुंचने से पहले ही जुनैद ने दम तोड़ दिया था. बाकी घायलों का एम्स के ट्रामा सेंटर में इलाज चल रहा है. पुलिस में दर्ज की गई एफआईआर के अनुसार दो गुटों के बीच सीट को लेकर झगड़ा हुआ था. जिसके बाद कहासुनी ने भयानक रूप ले लिया, जिसमें एक युवक की जान चली गई.

क्या था मामला
गुरुवार देर रात बल्लभगढ़ के खंदावली गांव निवासी जुनैद, हाशिम, शाकिर मोहसिन और मोइन दिल्ली से ईद के लिए खरीदारी करके वापस आ रहे थे. तुगलकाबाद स्टेशन पर चार लोग ट्रेन में चढ़े और सीट को लेकर झगड़ा करने लगे. मोहसिन और उसके साथियों ने जब इसका विरोध किया तो युवकों ने उन पर बीफ खाने का आरोप लगाते हुए मारपीट शुरू कर दी. ट्रेन में बैठे कुछ अन्य युवक भी उनके साथ हो लिए और मारपीट करने लगे. इस दौरान दो युवकों ने चाकू निकालकर मोहसिन, जुनैद, हासिम और मोइन पर हमला कर दिया. इस हमले में जुनैद (15) की मौत हो गई. इस घटना की शिकायत फरीदाबाद जीआरपी स्टेशन में दर्ज कराई गई. एसपी ने बताया कि इस मामले में एक गिरफ्तारी हो चुकी है और जल्द ही अन्य आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

दो लोग हिरासत में लिए गए
ट्रेन में बीफ खाने का आरोप लगाते हुए मारपीट और कत्ल मामले में पुलिस ने एक आरोपी की गिरफ्तारी के साथ दो लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है. उनकी पहचान की जा रही है. रविवार को वक्फ बोर्ड के चेयरमैन और स्थानीय विधायक पीड़ित परिवार से मिलने के लिए पहुंचे.

पीड़ित परिवार को मुआवजा और नौकरी
वक्फ बोर्ड की तरफ से पीड़ित परिवार को 5 लाख रुपये का मुआवजा और परिवार के एक शख्स को इमाम की नौकरी देने की बात कही गई. स्थानीय विधायक ने भी रेड क्रॉस की तरफ से पीड़ित परिवार को 5 लाख रुपये का चेक दिया. इस दुखद हादसे के बाद गांव के लोगों ने इस बार ईद का त्योहार न मनाने का फैसला किया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें