scorecardresearch
 

उप्र: गोली लगने से पूर्व मंत्री के भतीजे की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

हमीरपुर के पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार ने बताया कि गुरुवार सुबह करीब आठ बजे सूचना मिली कि पुरैनी गांव के ग्राम प्रधान जितेंद्र चौधरी उर्फ बॉबी की संदिग्ध परिस्थिति में देशी तमंचे से गोली लगने पर मौत हो गई है.

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

  • ध्रूराम चौधरी के भतीजे पेट में गोली लगने का निशान मिला
  • शव के पास मिला देशी तमंचा, पुलिस कर रही मामले की जांच

उत्तर प्रदेश में हमीरपुर जिले के जलालपुर थाना क्षेत्र के पुरैनी गांव में पूर्वमंत्री ध्रूराम चौधरी के भतीजे और गांव के प्रधान संदिग्ध परिस्थिति में अपने घर में गुरुवार को मृत पाए गए. उनके शरीर पर गोली लगने के घाव थे.

पुलिस कर रही जांच

समाचार एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक हमीरपुर के पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार ने बताया, 'गुरुवार सुबह करीब आठ बजे सूचना मिली कि पुरैनी गांव के ग्राम प्रधान जितेंद्र चौधरी उर्फ बॉबी की संदिग्ध परिस्थिति में देशी तमंचे से गोली लगने पर मौत हो गई है जिसकी उम्र 46 थी और उनका शव घर के अंदर पड़ा है.'

उन्होंने बताया, 'थाना पुलिस मौके पर गई और उनका शव घर के आंगन में जमीन पर पड़ा पाया गया. पेट में गोली लगने का निशान मिला है. शव के पास एक देशी तमंचा भी पाया गया है, जिसमें फायर हुआ कारतूस का खोखा फंसा था.'

फोरेंसिक जांच के लिए भेजा गया शव

कुमार ने बताया कि तमंचे को कब्जे में लेकर फोरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है. अभी यह तय नहीं हो पाया है कि ग्राम प्रधान ने गोली मार कर आत्महत्या की है या दुर्घटनावश गोली चली है.

एसपी ने बताया, 'अब तक की पूछताछ में पूर्वमंत्री ध्रूराम चौधरी के परिजनों ने बताया कि उनका भतीजा (जितेंद्र) हमेशा अपने पास देशी तमंचा रखता था. अचानक गोली चलने से उनकी मौत हुई है. हालांकि, परिवार में वैचारिक मतभेद होने की भी सूचना मिली है.'

उन्होंने बताया कि शव पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है और कई बिंदुओं को लेकर मामले की जांच गहराई से की जा रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें