scorecardresearch
 

दिल्ली महिला आयोग का दुष्कर्म के मामले में दिल्ली पुलिस को नोटिस

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाती मालीवाल ने दुष्कर्म के मामले में दिल्ली पुलिस को नोटिस भेज कर जवाब मांगा है. आयोग ने इस मामले में आरोपियों और उनकी गिरफ्तारी को लेकर जानकारी मांगी है.

बच्चों पर बर्बर यौन हमलों की बढ़ती तादाद (प्रतिकात्मक फोटो) बच्चों पर बर्बर यौन हमलों की बढ़ती तादाद (प्रतिकात्मक फोटो)

बच्चों पर बर्बर यौन हमलों की बढ़ती तादाद ने देश को झकझोर कर फिक्रमंद कर दिया है. दिल्ली महिला आयोग में तीन महिलाओं ने शिकायत दर्ज कराई कि उनके नाबालिग बच्चों के साथ कुछ लड़कों ने दुष्कर्म किया. तीनों बच्चों में एक बच्चे की उम्र 15 साल, तो दूसरे बच्चे की उम्र 10 साल वहीं तीसरे बच्चे की उम्र 9 साल बताई जा रही है. शिकायतकर्ताओं का कहना है कि आरोपी उनके परिवार को धमकी दे रहे हैं जिस पर दिल्ली महिला आयोग ने पुलिस को नोटिस भेज कर 22 तारीख तक जवाब मांगा है

शिकायतकर्ताओं के परिवार को मिल रही धमकी

जानकारी के मुताबिक तीनों बच्चे अपने घर के पास खेल रहे थे, तभी पड़ोस में रहने वाले कुछ लड़के उनके पास आए. उन्होंने बच्चों को पास की नहर में मछली पकड़ने का लालच दिया और अपने साथ ले गए. आरोपी लड़के उन तीनों बच्चों को एक सुनसान जगह पर ले गए. जहां उन्होंने उन तीनों मासूमों के साथ बेरहमी से दुष्कर्म किया. बताया जा रहा कि उन दरिंदों ने उन बच्चों के साथ दुष्कर्म के दौरान इतनी बर्बरता की जिसमें एक बच्चा बेहोश तक हो गया. उसको बहुत मुश्किल से होश में लाया जा सका. इस मामले को लेकर कंझावला थाने में एफआईआर दर्ज की गयी है. शिकायतकर्ताओं ने बताया कि आरोपी अब बच्चे और उनके परिवार वालों को धमकी दे रहे हैं.

दिल्ली महिला आयोग ने पुलिस से 22 तारीख तक मांगा जवाब

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने इस मामले में दिल्ली पुलिस को नोटिस भेज कर जवाब मांगा है. आयोग ने इस मामले में आरोपियों और उनकी गिरफ्तारी को लेकर जानकारी मांगी है. इसके अलावा आयोग ने पूछा है कि पोक्सो के तहत मामले की सूचना बाल कल्याण समिति और विशेष अदालत को दी गयी है या नहीं. दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष ने कई सवाल उठाते हुए कहा कि पुलिस इसकी भी जानकारी दें कि क्या बच्चों को बाल कल्याण समिति के समक्ष पेश किया गया है या नहीं. साथ ही क्या बाल कल्याण समिति ने बच्चों के लिए सपोर्ट पर्सन नियुक्त किया है या नहीं. साथ ही आयोग ने पूछा है कि बच्चों और उनके परिवार को सुरक्षा प्रदान करने के लिए पुलिस ने क्या कदम उठाए हैं. दिल्ली महिला आयोग ने पुलिस से 22 तारीख तक जवाब देने को कहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें