scorecardresearch
 

बीफ के शक में पीटकर जिस शख्स की हत्या कर दी गई वह मर्डर-किडनैपिंग केस में था आरोपी

झारखंड के रामगढ़ जिले में गुरुवार को मो. अलीमुद्दीन नामक एक शख्स को बीफ के शक में भीड़ ने पीट-पीटकर मार डाला. पुलिस ने इस मामले में 12 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है. बताया जा रहा है कि मारे गए शख्स अलीमुद्दीन पर चोरी, हत्या और अपहरण जैसे संगीन मामले दर्ज थे.

चोरी, हत्या और अपहरण मामले में आरोपी था मृतक चोरी, हत्या और अपहरण मामले में आरोपी था मृतक

झारखंड के रामगढ़ जिले में गुरुवार को मो. अलीमुद्दीन नामक एक शख्स को बीफ के शक में भीड़ ने पीट-पीटकर मार डाला. पुलिस ने इस मामले में 12 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है. बताया जा रहा है कि मारे गए शख्स अलीमुद्दीन पर चोरी, हत्या और अपहरण जैसे संगीन मामले दर्ज थे.

गुरुवार को एक ओर गुजरात से जब पीएम मोदी गोरक्षकों को नसीहत दे रहे थे, दूसरी तरफ झारखंड के रामगढ़ में कथित गोरक्षक पीएम की नसीहत को ठेंगे पर रख कानून अपने हाथ में लेते हुए सड़क पर खुद इंसाफ कर रहे थे. इंसाफ भी ऐसा कि सड़क का मंजर देख किसी की भी रूह कांप जाए.

क्या था मामला

पुलिस के मुताबिक, मो. अलीमुद्दीन नामक शख्स वैन से मांस लेकर जा रहा था. गोरक्षकों को इसकी भनक लग गई. रामगढ़ के बाजारटांड के पास गोरक्षकों ने उसे रोक लिया. वैन में चार बोरियों में मांस मिलने से गोरक्षक भड़क गए और बिना किसी छानबीन के गाड़ी में आग लगा दी.

 

बीच चौराहे सुनाया मौत का फरमान

इसके बाद शुरू हुआ मौत का खौफनाक खेल. गोरक्षकों ने बीच चौराहे ही अलीमुद्दीन को सजा-ए-मौत का फरमान सुना दिया. गोरक्षकों ने बेरहमी से उसकी पिटाई की, वीडियो बनाया. गोरक्षक उसे किसी भी कीमत पर छोड़ना नहीं चाहते थे. पुलिस मौके पर पहुंची और किसी तरह गोरक्षकों के चंगुल से उसे छुड़ाया गया.

 

इलाज के दौरान अलीमुद्दीन की मौत

अस्पताल में इलाज के दौरान अलीमुद्दीन की मौत हो गई. अलीमुद्दीन की मौत के बाद अस्पताल के बाहर ही प्रदर्शन किया गया. रिम्स में पोस्टमार्टम के बाद शव को मृतक के गांव मनुआ फूलसराय लाया गया. पुलिस को यहां काफी विरोध का सामना करना पड़ा. परिजनों ने इंसाफ की मांग करते हुए शव लेने से इनकार कर दिया.

 

देर रात परिजनों ने लिया शव

मध्यस्थता के दौरान तीन बार बातचीत विफल रही. दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के आश्वासन के बाद आखिरकार देर रात परिजन शव लेने को तैयार हुए. घटना के बाद से इलाके में स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है. एसपी सिटी किशोर कौशल के मुताबिक, रामगढ़ जिले के 33 संवेदनशील इलाकों में सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है.

 

12 लोगों के खिलाफ केस दर्ज

शुक्रवार सुबह पुलिस ने इस मामले में 12 लोगों के खिलाफ नामजद केस दर्ज किया है. अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है. हिंदूवादी संगठनों के कुछ नेता फरार चल रहे हैं. पुलिस उनकी तलाश में दबिश दे रही है. मुस्लिम संगठनों की ओर से शुक्रवार को रामगढ़ बंद का आह्वान किया गया है.

संगीन मामलों में आरोपी था मृतक

बताते चलें कि मारे गए शख्स अलीमुद्दीन पर हत्या और अपहरण के दो केस दर्ज थे. सीसीएल गिद्दी परियोजना के रीजनल स्टोर में हुई चोरी के मामले में भी उसे अभियुक्त बनाया गया था. गिद्दी पुलिस ने इस केस की छानबीन के बाद अलीमुद्दीन को चोरी हुए तांबे के साथ पकड़ा था.

 

पीएम मोदी की नसीहत बेअसर

एक ओर जहां पीएम मोदी गोरक्षकों को कानून हाथ में न लेने की नसीहत दे रहे हैं, तो वहीं गोरक्षकों पर पीएम की नसीहत भी बेअसर साबित हो रही है. गुरुवार को पीएम ने भीड़ की हिंसा को गलत ठहराते हुए गुजरात में कहा था, 'गोरक्षा के नाम पर हिंसा क्यों? मौजूदा हालातों पर पीड़ा होती है. गाय की सेवा ही गाय की भक्ति है. गोरक्षा के नाम पर हिंसा ठीक नहीं. देश को अहिंसा के रास्ते पर चलना होगा. गोभक्ति के नाम पर लोगों हत्या स्वीकार नहीं की जाएगी. अगर वह इंसान गलत है तो कानून अपना काम करेगा, किसी को भी कानून हाथ में लेने की जरूरत नहीं है. हिंसा समस्या का समाधान नहीं है.'

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें