scorecardresearch
 

यूपी: दलित युवक को जिंदा जलाने के मामले में प्रेमिका समेत 3 गिरफ्तार

यह मामला हरदोई जिले के कोतवाली शहर इलाके के भदैचा गांव का है. अभिषेक नाम के युवक का गांव की रहने वाली एक लड़की से प्रेम प्रसंग चल रहा था. पुलिस ने इस संबंध में प्रेमिका समेत 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

पुलिस की गिरफ्त में आरोपी पुलिस की गिरफ्त में आरोपी

  • दलित युवक की हत्या के आरोप में प्रेमिका समेत 3 गिरफ्तार
  • 5 लोगों के खिलाफ पीड़ित पक्ष ने दर्ज कराई थी नामजद FIR
  • लखनऊ ले जाते वक्त युवक की हो गई थी मौत
  • सदमे से मां की भी घटना वाले दिन हुई थी मौत
उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले में दलित युवक की हत्या के मामले में युवक की प्रेमिका समेत तीन लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने मृतक युवक की प्रेमिका और उसके बुआ और फूफा को गिरफ्तार कर लिया है. सामान्य बिरादरी की लड़की से दलित युवक के प्रेम प्रसंग के चलते प्रेमिका के घर वालों ने युवक को घर के अंदर ही जला दिया था. युवक की लखनऊ में उपचार के लिए ले जाते समय अगले दिन मौत हो गई थी.

घटना वाले दिन दलित युवक की मां की भी मौत सदमे से हुई थी. पुलिस ने इस मामले में मृतक के परिवार वालों की तहरीर पर 5 लोगों के खिलाफ जघन्य तरीके से हत्या करने का मामला दर्ज करके तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. युवक की हत्या में प्रेमिका, उसके फूफा और बुआ को भी नामजद किया गया था. पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस फिलहाल इस मामले में लड़के की मौत की वजह की कई एंगल से जांच कर रही है.

हरदोई के पुलिस उपाधीक्षक विजय सिंह राणा ने कहा कि यह मामला भदैचा इलाके का है. इसी गांव का रहने वाला अभिषेक उर्फ मोनू दलित बिरादरी से था. युवक का प्रेम संबंध गांव की ही एक लड़की के साथ चल रहा था. लड़की ने उसे रात में मिलने के लिए बुलाया था. जब युवक घर पहुंचा तभी उसके साथ हादसा हुआ.

लड़की अपनी बुआ और फूफा के घर में रहती थी, लेकिन लड़की मूल रूप से शाहजहांपुर की रहने वाली थी. पुलिस लड़के की मौत की वजह जानने की कोशिश कर रही है. पुलिस जानने की कोशिश कर रही है कि युवक कैसे जला. इस मामले से संबंधित तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. मामले की जांच जारी है. आरोप है कि तीनों आरोपियों ने घर के अंदर पेट्रोल डालकर दलित युवक को जिंदा जला दिया. घटना वाले दिन ही बेटे को जला देखकर उसकी मां की भी मौत हो गई थी.

घटना में मृतक के घर वालों ने पुरानी रंजिश का मामला बताते हुए 5 लोगों के खिलाफ नामजद तहरीर दी थी. पीड़ित पक्ष ने युवक की प्रेमिका, लड़की के फूफा और बुआ का नाम भी शामिल किया था. साथ ही सामने रहने वाले दो लड़कों के खिलाफ नामजद शिकायत दर्ज कराई थी.

पुलिस की जांच के मुताबिक मामला प्रेम प्रसंग से जुड़ा हुआ था. गांव में रहने वाली युवती अपने बुआ-फूफा के साथ गांव में रहती थी. युवती दलित युवक के साथ प्रेम संबंध में थी. पुलिस के मुताबिक घटना वाले दिन अभिषेक अपनी प्रेमिका से मिलने उसके घर गया था, जहां दोनों एक साथ घर के बाहरी हिस्से के कमरे में मौजूद थे. दोनों को एक साथ देखकर परिवार वालों ने पहले अभिषेक की पिटाई की और उसके बाद कमरे के अंदर बंद करके उस पर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी.

घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची एंबुलेंस से उसे जिला अस्पताल ले जाया गया. अगले ही दिन युवक की मौत हो गई. मौत के बाद युवक का अंतिम संस्कार भारी पुलिस सुरक्षा में किया गया. दलित युवक के साथ इस सनसनीखेज वारदात के बाद पूरे पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया था. पुलिस ने पूरे मामले में कार्रवाई करते हुए नामजद आरोपी, उनकी पत्नी और भतीजी को हत्या के आरोप में गिरफ्तार करके जेल भेजा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें