scorecardresearch
 

छत्तीसगढ़: चार जवानों की शहादत का 24 घंटे में लिया बदला, 3 नक्सली ढेर

मारे गए नक्सलियों में एक महिला नक्सली भी शामिल है. पुलिस ने तीनों नक्सलियों के शव भी बरामद कर लिए हैं. हालांकि अब तक किसी नक्सली की पहचान नहीं हो पाई है.

4 जवानों की शहादत का 24 घंटे में लिया बदला 4 जवानों की शहादत का 24 घंटे में लिया बदला

छत्तीसगढ़ पुलिस ने गणतंत्र दिवस से ठीक एक दिन पहले नक्सली हमले में शहीद हुए चार जवानों की शहादत का बदला मात्र 24 घंटे के अंदर ले लिया है. पुलिस ने चिंतलनार इलाके के मोरपल्ली के जंगलों में हुई मुठभेड़ में तीन नक्सलियों को मार गिराया है.

पुलिस ने बताया कि मारे गए नक्सलियों में एक महिला नक्सली भी शामिल है. पुलिस ने तीनों नक्सलियों के शव भी बरामद कर लिए हैं. हालांकि अब तक किसी नक्सली की पहचान नहीं हो पाई है. इतना ही नहीं पुलिस ने मुठभेड़ स्थल से बड़ी मात्रा में विस्फोटक सामग्री भी बरामद की है.

पुलिस ने CRPF के साथ संयुक्त अभियान में यह सफलता हासिल की है. पुलिस को जानकारी मिली थी कि दो दिन पहले नारायणपुर में उसके जवानों पर हमला करने वाले नक्सलियों का दस्ता मोरपल्ली इलाके में है. नक्सलियों के इस दस्ते ने गणतंत्र दिवस का बहिष्कार करने का आह्वान किया था और इसे लेकर मोरपल्ली के ग्रामीणों को धमकाया भी था.

पुलिस को ऐसी खबरें भी मिली थीं कि कई स्कूल नक्सलियों के खौफ से बंद भी रहे. लिहाजा पुलिस और CRPF की 201 बटालियन का एक दस्ता पूरी मुस्तैदी के साथ नक्सलियों के पीछे जंगल में दाखिल हुआ. चिंतलनार इलाके में दाखिल होते ही फोर्स को नक्सलियों के होने सुचना मिली.

आखिरकर फ़ोर्स ने नक्सलियों के दस्ते को घेर लिया. दोनों ओर से जमकर फायरिंग हुई. पुलिस और CRPF के जवानों को मुठभेड़ के दौरान मामूली चोट लगी, लेकिन नक्सलियों के हौसले पस्त हो गए. कवर फायरिंग करते हुए नक्सली पीछे की ओर भागने लगे.

नक्सली दस्ते के अधिकतर नक्सली तो सुरक्षित ठिकाने की ओर भाग निकलने में सफल रहे. लेकिन भाग रहे नक्सलियों का पीछा करते हुए फोर्स को तीन हथियारबंद नक्सलियों के शव दिखाई पड़े, जो मुठभेड़ के दौरान मार गिराए गए थे. पुलिस ने तीनों शवों को अपने कब्जे में ले लिया है. हालांकि फोर्स ने शेष नक्सलियों की तलाश जारी रखी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें