scorecardresearch
 

बेंगलुरूः चलती बस में नर्स के साथ बलात्कार

बेंगलुरू में एक नर्स के साथ चलती बस में बलात्कार किए जाने का शर्मनाक मामला सामने आया है. वारदात के वक्त बस का क्लीनर बस चला रहा था. जबकि बस चालक नर्स की इज्जत को तार तार कर रहा था.

चलती बस में उस बेबस नर्स की चीख किसी ने नहीं सुनी चलती बस में उस बेबस नर्स की चीख किसी ने नहीं सुनी

बेंगलुरू में एक नर्स के साथ चलती बस में बलात्कार किए जाने का शर्मनाक मामला सामने आया है. वारदात के वक्त बस का क्लीनर बस चला रहा था. जबकि बस चालक नर्स की इज्जत को तार तार कर रहा था.

यह वारदात बीती रात बेंगलुरू के होस्कोटे इलाके में हुई. 19 वर्षीय नर्स रजनी (काल्पिनक नाम) बेंगलुरू से 30 किलोमीटर दूर होस्कोटे में एक नर्सिग होम में काम करती है. वह रोज बस से काम पर जाती है. गुरुवार की रात वह सुलीबेले से वापस घर आने के लिए बस में सवार हुई थी.

इसी दौरान रजनी बस में अकेली रह गई. बाकी यात्री एक एक कर उतर गए. रजनी को अकेला देखकर बस चालक की नीयत खराब हो गई. उसने क्लीनर से बस चलाने के लिए कहा. और खुद रजनी पर टूट पड़ा. उसने रजनी के साथ जबरन बलात्कार किया. इस बीच बस कहीं नहीं रुकी. क्लीनर तेज गति से बस चलाता रहा. वह चीखती रही चिल्लाती रही लेकिन उसकी मदद के लिए कोई नहीं आया.

बेंगलुरू ग्रामीण के अपर पुलिस अधीक्षक एस.आर.रमेश ने बताया कि वारदात के बाद आरोपी बस चलाक ने पीड़ित रजनी को नागागोंडानाहल्ली में सड़क किनारे फेंक दिया. बदहवास रजनी बामुश्किल पास के एक अस्पताल पहुंची और वहां चिकित्सकों को अपनी आपबीती बताई. डॉक्टरों ने फौरन पुलिस को इसकी सूचना दी.

पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेटे हुए फौरन कार्रवाई शुरु कर दी. केस दर्ज करने के बाद दोनों आरोपियों 26 वर्षीय बस चालक रवि और 23 वर्षीय बस क्लीनर मंजूनाथ को गिरफ्तार कर लिया गया है. ये दोनों पड़ोसी राज्य आंध्र प्रदेश में पंजीकृत बस चलाते थे.

गौरतलब है कि तीन अक्टूबर को भी बेंगलुरू में एक चलती वैन में 23 वर्षीय एक महिला के साथ चालक और क्लीनर ने बलात्कार की वारदात को अंजाम दिया था.

इनपुट- IANS

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें