scorecardresearch
 

रेप के बाद पंचायत ने सुनाया शादी का फैसला, दहेज के लिए तोड़ी दी शादी

यूपी में पंचायत के तुग़लकी फरमान का एक मामला फिर से सामने आया है. बांदा जिले में पंचायत ने रेप के आरोपी को पीड़ित लड़की से शादी करने फरमान सुनाया था. आरोपी ने पंचायत के फरमान को तो मान लिया, लेकिन बाद में दहेज़ के नाम पर लड़की से पांच लाख रुपये की मांग करने लगा और फिर दहेज न मिलने पर उस युवक ने शादी तोड़ दी.

X
पुलिस मामले की छानबीन कर रही है
पुलिस मामले की छानबीन कर रही है

यूपी में पंचायत के तुग़लकी फरमान का एक मामला फिर से सामने आया है. बांदा जिले में पंचायत ने रेप के आरोपी को पीड़ित लड़की से शादी करने फरमान सुनाया था. आरोपी ने पंचायत के फरमान को तो मान लिया, लेकिन बाद में दहेज़ के नाम पर लड़की से पांच लाख रुपये की मांग करने लगा और फिर दहेज न मिलने पर उस युवक ने शादी तोड़ दी.

जानकारी के मुताबिक लड़की के परिजनो ने अब पुलिस से मदद की गुहार लगाई है. जिले के बिसांदा थाने में आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है. पीड़ित लड़की और आरोपी पीड़िता एक ही समुदाय से हैं. 22 मार्च को आरोपी ताज ने पीड़िता के साथ रेप किया था.

मामला प्रकाश में आने के बाद गांव में पंचायत बुलाई गई. जिसमे आरोपी को लड़की से शादी करने का फरमान सुनाया गया. शादी की तारीख 20 मई तय की गई थी. आरोपी ने लड़की से शादी के लिए हां तो कर दी लेकिन दहेज की मांग लेकर वह लड़की के परिजनों पर दबाव बनाने लगा.

पुलिस के मुताबिक, पंचायत के फरमान पर शादी 20 मई को होनी थी लेकिन शादी से पहले ताज ने 5 लाख रुपये दहेज की मांग की. पीड़ित लडकी के परिवार ने दहेज की ये रकम देने से साफ इनकार कर दिया. दहेज न मिलने की बात से आरोपी गुस्से में आ गया और उसने शादी तोड़ दी.

इसके बाद लगातार दोनों परिवारों के बीच इस मसले पर कई बार बातचीत हुई, लेकिन कोई हल नहीं निकल पाया. आखिरकार लड़की के परिवार ने आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा दी. थाना प्रभारी के.पी.दुबे के मुताबिक पुलिस ने आरोपी के खिलाफ दहेज उत्पीड़न, धोखाधड़ी और बलात्कार का केस दर्ज किया है. अभी तक इस मामले में कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें