scorecardresearch
 

रेप की कोशिश कर रहे भतीजे का प्राइवेट पार्ट चाची ने काटा

उत्तर प्रदेश में जहां महिलाओं के साथ होने वाली रेप की वारदातें थमने का नाम नहीं ले रही है, वहीं महिलाओं ने ऐसा करने वालों को अपने की ढंग से सबक सिखाने का मन बना लिया है. ऐसा ही एक मामला इटावा के बसरेहर थाना क्षेत्र के एक गांव में देखने को मिला.

यूपी के इटावा में हुई सनसनीखेज वारदात यूपी के इटावा में हुई सनसनीखेज वारदात

उत्तर प्रदेश में जहां महिलाओं के साथ होने वाली रेप की वारदातें थमने का नाम नहीं ले रही है, वहीं महिलाओं ने ऐसा करने वालों को अपने की ढंग से सबक सिखाने का मन बना लिया है. ऐसा ही एक मामला इटावा के बसरेहर थाना क्षेत्र के एक गांव में देखने को मिला. यहां रेप की कोशिश कर रहे भतीजे को चाची ने सबक सिखाया और उसका गुप्तांग काट डाला.

जानकारी के मुताबिक, इटावा के बसरेहर थाना क्षेत्र के दुर्गापुर गांव में मंगलवार देर रात अंधेरे का फायदा उठाकर एक युवक मनोज कुमार अपनी चाची के घर में घुस गया. उन्हें पकड़ कर उनके साथ रेप की कोशिश करने लगा. इस पर महिला ने युवक का पुरजोर विरोध किया. उसने हिम्मत दिखाते हुए चाकू से वार करते हुए युवक के प्राइवेट पार्ट को काट डाला.

इसके बाद आरोपी युवक पर काबू पाते हुए उसे खंभे से बांध दिया. इसके बाद देर रात ही पीड़िता ने खुद पुलिस को इस मामले की सूचना दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने रेप की कोशिश कर रहे घायल युवक को उपचार के लिए सैफई मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया है. वहां उसकी स्थिति गंभीर बनी हुई है. इसके साथ ही युवक के परिजन भी अस्पताल पहुंच गए हैं.

पुलिस के मुताबिक, एक महिला ने सूचना दी कि उसका भतीजा उसके साथ रेप करने की कोशिश कर रहा है. सूचना मिलते ही टीम मौके पर पहुंची. वहां आरोपी युवक घायल अवस्था में पड़ा हुआ था. महिला की शिकायत पर आरोपी मनोज कुमार के खिलाफ आईपीसी की धारा 354क और 323 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है. इस मामले की जांच की जा रही है.

कलयुगी बाप की काली करतूत

बताते चलें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नाबालिगों से रेप के दोषियों को फांसी की सजा देने के लिए केंद्र सरकार को प्रस्ताव भेज दिया है, लेकिन फिर भी रेप की घटनाएं रुकने का नाम ही नहीं ले रहीं. हाल ही में बाराबंकी से कलयुगी पिता द्वारा अपनी ही तीन बेटियों के साथ रेप और मारपीट करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है.

इस घटना का खुलासा तब हुआ जब तीनों बच्चियां ट्रेन से कटकर जान देने पहुंच गईं. आत्महत्या की कोशिश में एक बच्ची का पैर कट गया. स्थानीय लोगों ने पुलिस को इसकी सूचना दी. इसके बाद पुलिस ने तीनों बच्चियों को अपनी सुरक्षा में ले लिया और घायल बच्ची को इलाज के लिए ट्रॉमा सेंटर में भर्ती करवाया. इस घटना से सूबे में सनसनी फैल गई.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें