scorecardresearch
 

कोलकाताः पशु तस्करी के मामले में टीएमसी नेता के खिलाफ गैर-जमानती वांरट जारी

भारत-बांग्लादेश सीमा पर पशु तस्करी के मामले में टीएमसी नेता विनय मिश्रा का नाम सामने आया था. केन्द्रीय जांच ब्यूरो ने इस मामले में विनय मिश्रा के खिलाफ जांच शुरू कर दी थी. आरोप है कि विनय मिश्रा, बीएसएफ अधिकारियों के साथ मिलकर पशु तस्करी का काम करते थे.

बंगाल और असम से बांग्लादेश में बड़े स्तर पर पशुओं की तस्करी की जाती है (फाइल फोटो) बंगाल और असम से बांग्लादेश में बड़े स्तर पर पशुओं की तस्करी की जाती है (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • आरोपी नेता विनय मिश्रा के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी
  • भारत-बांग्लादेश सीमा पर मवेशियों की तस्करी का है आरोप
  • तस्करी में शामिल थे बीएसएफ के अधिकारी भी

केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने पशु तस्करी मामले में टीएमसी नेता विनय मिश्रा के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया है. सूत्रों का कहना है, सीबीआई के अनुरोध पर कोलकाता की विशेष अदालत ने विनय मिश्रा के खिलाफ NBW जारी किया है. इस मामले में विनय मिश्रा को सीबीआई ने चार बार तलब किया, लेकिन वो एक बार भी सीबीआई के समक्ष पेश नहीं हुए. 

भारत-बांग्लादेश सीमा पर पशु तस्करी के मामले में टीएमसी नेता विनय मिश्रा का नाम सामने आया था. केन्द्रीय जांच ब्यूरो ने इस मामले में विनय मिश्रा के खिलाफ जांच शुरू कर दी थी. आरोप है कि विनय मिश्रा, बीएसएफ अधिकारियों के साथ मिलकर पशु तस्करी का काम करते थे. इस मामले में सीबीआई ने 21 सितंबर 2020 को मामला दर्ज किया था. 

देखेंः आज तक Live TV

इसके बाद सीबीआई की टीम ने पश्चिम बंगाल के कई स्थानों समेत विनय मिश्रा के ठिकानों पर छापेमारी भी की थी. सीबीआई की एफआईआर के मुताबिक बीएसएफ के कुछ अधिकारी, सैनिक और तीन व्यक्तियों सहित अज्ञात लोक सेवक मिलकर भारत और बांग्लादेश की सीमा पर मवेशियों की तस्करी का अवैध कारोबार करते थे. जिसमें टीएमसी नेता विनय मिश्रा का नाम भी प्रमुख रूप से शामिल था. 

इस मामले में जब चार बार तलब किए जाने पर भी विनय मिश्रा सीबीआई के सामने पेश नहीं हुए तो उनके खिलाफ लुक आउट नोटिस भी जारी कर दिया गया है. जांच एजेंसी को आशंका है कि मिश्रा देश छोड़कर जा सकते हैं. इसलिए सभी हवाई अड्डो, बंदरगाहों और सीमाओं पर चौकसी बरती जा रही है. बता दें कि विनय मिश्रा को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी का बेहद करीबी माना जाता है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें