scorecardresearch
 

जयपुरः चाचा के हाथ पर गुदा था मां का नाम, भतीजे ने कर दी हत्या

पुलिस के मुताबिक राज ने बताया कि उसने चाचा के हाथ पर अपनी मां का नाम गुदा हुआ देखा. इसके बाद उसे गुस्सा आ गया और अंदर जाकर रॉड निकालकर लाया और पीछे से सिर पर दे मारा.

चाचा के हाथ पर गुदा दिखा मां का नाम (प्रतीकात्मक तस्वीर) चाचा के हाथ पर गुदा दिखा मां का नाम (प्रतीकात्मक तस्वीर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • राजस्थान के जयपुर में हुई थी पोर्टब्लेयर के व्यापारी की हत्या
  • चाचा के कारण हुआ था आरोपी के माता-पिता का तलाक

राजस्थान की राजधानी जयपुर के हाई प्रोफाइल हत्याकांड का खुलासा हो गया है. पोर्ट ब्लेयर के व्यापारी की जयपुर में हत्या के मामले का पुलिस ने खुलासा कर दिया है. जयपुर के भांकरोटा में 44 साल के व्यापारी को उसके ही 18 साल के भतीजे ने मौत के घाट उतार दिया था. पुलिस के मुताबिक चाचा के हाथ पर अपनी मां का नाम गुदा देखकर आरोपी ने उसके सिर पर रॉड से प्रहार कर हत्या कर दी.

जानकारी के मुताबिक, 44 साल के व्यापारी शशि अग्रवाल की हत्या उसके 18 साल के भतीजे राज अग्रवाल ने ही की थी.पुलिस के मुताबिक मृतक शशि और हत्यारोपी राज का परिवार पोर्टब्लेयर में रहता है और वहीं पर लोहे की अलमारी का व्यापार करता है. राज यहां जयपुर में रहकर पढ़ाई करता था और सिरसी रोड पर रहता था. शशि किसी काम से जयपुर आया था तो वह अपने भतीजे और भतीजे के दोस्त बंटी के साथ मिलकर शराब पार्टी कर रहा था.

पोर्ट ब्लेयर के व्यापारी की हुई थी हत्या
पोर्ट ब्लेयर के व्यापारी की हुई थी हत्या

पुलिस के मुताबिक राज ने बताया कि उसने चाचा के हाथ पर अपनी मां का नाम गुदा हुआ देखा. इसके बाद उसे गुस्सा आ गया और अंदर जाकर रॉड निकालकर लाया और पीछे से सिर पर दे मारा. रॉड के प्रहार से शशि की मौके पर ही मौत हो गई. हत्यारोपी भतीजे के मुताबिक शशि की मौत के बाद उसने एक और दोस्त को बुलाया और फिर यू ट्यूब से शवों को ठिकाने लगाने के उपाय देखे.

भतीजे ने शव को ठिकाने लगाने में दोस्त का भी लिया सहयोग
भतीजे ने शव को ठिकाने लगाने में दोस्त का भी लिया सहयोग

आरोपी के हवाले से पुलिस ने बताया कि इसके बाद वैशाली नगर जाकर आरोपी ने नमक खरीद कर लाया और नमक डालकर पॉलिथीन में पैक किया. एक टैक्सी किराए पर ली और सुनसान जगह पर ले जाकर शव को गाड़ रहा था. राज ने बताया कि उसके मां और उसके पिता के बीच तलाक हो चुका है और ये सभी लोग पोर्टब्लेयर रहते हैं वह चाचा शशि के साथ अगले दिन पोर्टब्लेयर जाने वाला था. उसे पता था कि घर में चाचा की वजह से ही उसके माता-पिता के बीच कलह है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें