scorecardresearch
 

बहू के साथ अवैध संबंध बना रहा था ससुर, बेटे ने देखा तो कर दी पिता की हत्या

हत्या की यह सनसनीखेज वारदात अलवर जिले के मुंडावर थाना क्षेत्र की है. जहां तिनरुड़की गांव में रहने वाला 60 वर्षीय रामसिंह यादव अपने घर की छत पर सो रहा था. वहीं उसे किसी भारी वस्तु से कई वार कर कत्ल कर दिया गया.

पुलिस ने महज 4 घंटे में इस कत्ल का खुलासा कर दिया पुलिस ने महज 4 घंटे में इस कत्ल का खुलासा कर दिया
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अवैध संबंध बने हत्या की वजह
  • पिता-पत्नी के संबंधों से खफा था आरोपी
  • आपत्तिजनक हालत में देख रची कत्ल की साजिश

राजस्थान के अलवर जिले में कत्ल का एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है, जहां एक बेटे ने अपने पिता को ही बेरहमी के साथ मौत के घाट उतार दिया. बताया जा रहा है कि आरोपी ने अपने पिता को अपनी पत्नी के साथ अवैध संबंध बनाते हुए देख लिया था. इसी बात से खफा होकर उसने छत पर सो रहे पिता को हमेशा के लिए मौत की नींद सुला दिया. वारदात के बाद आरोपी फरार हो गया था.

हत्या की यह सनसनीखेज वारदात अलवर जिले के मुंडावर थाना क्षेत्र की है. जहां तिनरुड़की गांव में रहने वाला 60 वर्षीय रामसिंह यादव अपने घर की छत पर सो रहा था. वहीं उसे किसी भारी वस्तु से कई वार कर कत्ल कर दिया गया था. मामला पुलिस तक पहुंचा तो तफ्तीश शुरू हुई. पुलिस ने मामले में तेज कार्रवाई करते हुए महज चार घंटे में इस हत्याकांड का खुलासा कर दिया.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्लिक करें

पुलिस ने मामले का अनावरण करते हुए रामसिंह यादव के 30 वर्षीय बेटे प्रदीप यादव को गिरफ्तार कर लिया. पूछताछ में आरोपी बेटे ने बताया कि उसने अपने बुजुर्ग पिता रामसिंह की हत्या बिजली के खंबे में लगाई जाने वाली डिस्क से मार-मारकर की थी. हत्या की वजह का खुलासा करते हुए उसने बताया कि उसके मृतक पिता के उसकी पत्नी के साथ अवैध संबंध थे. एक दिन प्रदीप ने उन दोनों को आपत्तिजनक हालत में देख लिया था.

वो मंजर देखकर प्रदीप को गहरा सदमा लगा. उसने मंगलवार को पिता को मारने की योजना पर काम शुरू कर दिया. उस दिन शाम को वो घर से बिना बताए बाहर चला गया. जब वो रात में वापस लौटा तो उसके पिता घर की छत पर सो रहे थे. तभी वो चुपचाप छत पहुंचा और बिजली के खंबे में लगने वाली डिस्क से अपने पिता पर ताबड़तोड़ हमला कर दिया. रामसिंह ने तड़प-तड़प कर मौके पर ही दम तोड़ दिया.

सुबह छत पर रामसिंह की खून से सनी लाश मिलने से हड़कंप मच गया. फौरन मामले की सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी गई. पुलिस मौके पर पहुंची और एफएसएल की टीम को बुलाया गया. मौके से सुबूत और सुराग जुटाए गए. इस दौरान पुलिस ने गौर किया कि मृतक रामसिंह यादव का बेटा प्रदीप घर से गायब था. पुलिस ने पास-पड़ोस में पूछताछ की तो पुलिस को प्रदीप की पत्नी और पिता के अवैध संबंधों को लेकर होने वाले झगड़े की जानकारी मिली.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

बस इसी जानकारी के बाद पुलिस को मृतक के बेटे पर ही कत्ल का शक हो गया. पुलिस ने उसकी मोबाइल लोकेशन को ट्रेस करना शुरू कर दिया. इसी दौरान उसकी लोकेशन पड़ोस के गांव में पाई गई. इससे पहले कि वो वहां से भाग पाता, पुलिस ने उसे धरदबोचा. डीएसपी लोकेश मीणा ने बताया कि मौका-ए-वारदात पर रामसिंह मृत अवस्था में अपने घर की छत पर चारपाई पर पड़ा था. उसके सिर में चोट के निशान थे और खून बह रहा था.

मृतक के भतीजे शेर सिंह ने इस संबंध में थाने जाकर शिकायत दर्ज कराई है. पुलिस के मुताबिक प्रदीप ने बुधवार की सुबह अपना सिर मुंडवा लिया था और अपने पिता का तर्पण भी कर दिया था. इसके बाद रात में उसने पिता की हत्या की. आरोपी बेटे प्रदीप को अपने पिता के कत्ल का कोई मलाल नहीं है. आरोपी का मानना है कि उसने पिता को केवल उनके गुनाह की सजा दी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें