scorecardresearch
 

महंत नरेंद्र गिरि सुसाइड: CBI कराएगी तीन आरोपियों का पॉलीग्राफ टेस्ट, कोर्ट में लगाई अर्जी

अखाड़ा परिषद के महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत के मामले में सीबीआई ने सीजेएम कोर्ट में आवदेन किया है. इस आवेदन में तीनों आरोपी आनंग गिरि, आद्या तिवारी और संदीप तिवारी के पॉलीग्राफ टेस्ट की मांग की गई है.

आनंद गिरि. (फाइल फोटो) आनंद गिरि. (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • CBI ने सीजेएम कोर्ट में लगाई अर्जी
  • मामले की अगली सुनवाई 18 अक्टूबर को

अखाड़ा परिषद के महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत के मामले में सीबीआई ने सीजेएम कोर्ट में अर्जी लगाई है. इस आवेदन में तीनों आरोपी आनंद गिरि, आद्या तिवारी और संदीप तिवारी के पॉलीग्राफ टेस्ट (लाई डिटेक्टर टेस्ट) की मांग की गई है. प्रयागराज के सीजेएम कोर्ट में इस मामले की अगली सुनवाई 18 अक्टूबर को होगी.

इससे पहले अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरि की मौत का राज जानने और उस रहस्य से पर्दा उठाने के लिए सीबीआई शनिवार (25 सितंबर) की शाम को मठ बाघम्बरी गद्दी में जांच करने पहुंची थी. सीबीआई के अधिकारियों ने पहले महंत नरेन्द्र गिरि की समाधि का जायजा लिया था. इसके बाद उस कमरे तक गई, जिसमें महंत की लाश पंखे से लटकी मिली थी. वहीं, सीबीआई ने महंत के कुछ शिष्यों से भी पूछताछ की, जिन्होंने सबसे पहले उनकी लाश को देखा था और नीचे उतारा था.

इस दौरान मठ में साधुओं के लिए बने गेस्ट हाउस में साधुओं से जानकारी लेने के बाद महंत नरेंद्र गिरि के शिष्य व मठ के नए उत्तराधिकारी का चर्चा में नाम आने वाले बलवीर गिरि से भी सीबीआई के अधिकारियों ने पूछताछ की और बयानों को डायरी में नोट किया. वहीं सबसे पहले महंत का शव देखने वाले सर्वेश दुबे, सुमित तिवारी और अन्य से पूछताछ की थी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें