scorecardresearch
 

एंटीलिया केसः ATS ने लिया सचिन वाज़े का बयान, स्कॉर्पियो के इस्तेमाल से किया इनकार

मुंबई क्राइम ब्रांच के API सचिन वाज़े ने अपने बयान में मनसुख की उस स्कॉर्पियो एसयूवी के इस्तेमाल से साफ इनकार कर दिया, जिसमें एंटीलिया के करीब विस्फोटक रखकर छोड़ दिया गया था.

एंटीलिया के पास मिली एसयूवी कार से जिलेटिन की छड़ें और धमकी भरा खत बरामद हुआ था एंटीलिया के पास मिली एसयूवी कार से जिलेटिन की छड़ें और धमकी भरा खत बरामद हुआ था
स्टोरी हाइलाइट्स
  • विमला हिरेन ने सचिन वाज़े पर लगाया हत्या का आरोप
  • नेता प्रतिपक्ष ने भी उठाई वाज़े की गिरफ्तारी की मांग
  • मनसुख हिरेन को पहले से जानता है सचिन वाज़े

मुंबई में एंटीलिया के पास मिली विस्फोट भरी कार और मनसुख हिरेन की मौत के मामले में एटीएस की टीम ने क्राइम ब्रांच के एपीआई सचिन वाज़े का बयान दर्ज किया है. वाज़े ने अपने बयान में मनसुख की उस स्कॉर्पियो एसयूवी के इस्तेमाल से साफ इनकार कर दिया, जिसमें एंटीलिया के करीब विस्फोटक रखकर छोड़ दिया गया था.

मनसुख हिरेन की पत्नी विमला ने अपने बयान में कहा है कि वो एसयूवी कार नवंबर 2020 में मनसुख ने वाज़े को सौंप दी थी और उसने कार के स्टीयरिंग में दिक्कत का हवाला देते हुए 5 फरवरी 2021 को उसे वापस कर दिया था.

विमला का बयान मनसुख के उस बयान जैसा ही है कि जिसमें मनसुख ने स्टीयरिंग की परेशानी के चलते अपना एसयूवी कार मुलुंड ऐरोली लिंक रोड पर छोड़ने की बात कही थी और वहीं से अगले दिन वो कार चोरी हो गई थी. 

सचिन वाज़े ने अपने बयान में मौत से एक दिन पहले मनसुख हिरेन से मिलने की बात को भी नकार दिया. 

जबकि मनसुख की पत्नी का बयान दावा करता है कि कांदिवली पुलिस स्टेशन के किसी तावड़े नामक पुलिसवाले ने मनसुख को फोन किया था और उस कॉल के बाद वह एक ऑटो में बैठकर उस पुलिसवाले से मिलने के लिए घोडबंदर की तरफ चले गए थे. 

मनसुख ने अपने परिवार से कहा था कि किसी भी मुसीबत में पड़ने पर वाज़े से संपर्क करना. उसका दावा है कि परिवार उस पर भरोसा करता था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×