scorecardresearch
 

कानपुरः जहां हुआ था विकास दुबे का एनकाउंटर, वहीं पलटी बदमाशों की गाड़ी, 6 गिरफ्तार

इस गाड़ी के पलटने से बदमाशों का पीछा कर रही कानपुर पुलिस ने गाड़ी में फंसे चार बदमाशों को मौके से पकड़ लिया जबकि गाड़ी से निकल कर भागे दो को दौड़ा कर पकड़ा गया.

छह बदमाश गिरफ्तार छह बदमाश गिरफ्तार
स्टोरी हाइलाइट्स
  • आशीष नाम के युवक की हत्या कर भाग रहे थे बदमाश
  • पीछा कर रही थी कानपुर पुलिस, बदमाशों को पकड़ा

कानपुर में विकास दुबे की गाड़ी का पलटना और फिर उसका एनकाउंटर, इसपर अबतक विपक्ष द्वारा सवाल खड़े किए जाते हैं. इसी बीच जिस जगह विकास दुबे की गाड़ी पलटी थी, उसी जगह हत्या कर भाग रहे बदमाशों की गाड़ी भी पलट गई. इस वाहन में छह बदमाश सवार थे.

इस गाड़ी के पलटने से बदमाशों का पीछा कर रही कानपुर पुलिस ने गाड़ी में फंसे चार बदमाशों को मौके से पकड़ लिया जबकि गाड़ी से निकल कर भागे दो को दौड़ा कर पकड़ा. बदमाशों ने विकास दुबे की तरह न पुलिस की रिवाल्वर छीनी ना पुलिस ने उनको गोली मारी. जानकारी के मुताबिक इन बदमाशों ने शनिवार की देर रात फजलगंज में आशीष नाम के युवक की घर से बुलाकर हत्या कर दी थी.

बताया जाता है कि ये बदमाश सीसीटीवी में आशीष को बहलाकर ले जाते हुए नजर आए थे. उसी आधार पर इनको पकड़ा गया है. दरअसल, शनिवार की रात को फजलगंज के रहने वाले प्रांशु और आशु  ने अपने साथियों के साथ आशीष नामक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी थी. प्रांशु का आरोप है कि आशीष ने उसको बहन की गाली दी थी. इसी से नाराज होकर उसने अपने साथियों के साथ पहले आशीष को घर से बुलाया फिर उसको गोली मार दी.

पुलिस के मुताबिक गोली मारने के बाद बदमाश एक इनोवा कार से दिल्ली भागने की कोशिश में थे लेकिन इसके पहले ही पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज से इनकी पहचान कर ली. पुलिस ने सर्विलांस के सहारे इनका पीछा शुरू कर दिया. बारा टोल प्लाजा के पहले इन लोगों ने पुलिस को आते देख लिया. बदमाशों ने गाड़ी की रफ्तार और तेज कर दी. इसी दौरान इनकी गाड़ी पलट गई. चार बदमाश गाड़ी में फंसे रहे जबकि दो निकलकर भागे. पुलिस टीम ने पहले चारों को पलटी गाड़ी से पकड़ा फिर उसके बाद भाग रहे अन्य दो को भी पकड़ लिया.

कानपुर के अपर पुलिस कमिश्नर आकाश कुलहरि ने कहा कि ये बदमाश दिल्ली भागने की फिराक में थे. पुलिस ने सर्विलांस के सहारे इनका पीछा करना शुरू कर दिया था. गाड़ी पलटने के बाद इन सभी को गिरफ्तार कर लिया गया है. गौरतलब है कि जिस बारा टोल प्लाजा के पास बदमाशों की गाड़ी पलटी उसी के पास सवा साल पहले 10 जुलाई को विकास दुबे को ला रही गाड़ी भी पलटी थी जिसके बाद भागते समय उसका एनकाउंटर हुआ था.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×