scorecardresearch
 

दिल्लीः प्रेमी के साथ मिलकर किया पति का कत्ल, वारदात के लिए होटल में लिए थे रूम

दिल्ली के मुनिरका इलाके में 32 साल का वसी अहमद अपनी पत्नी के साथ रहता था. बीती 5 अप्रैल को पुलिस ने वसी की लाश समयपुर बादली इलाके से बरामद की. अब पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई. पुलिस टीम कातिल का सुराग तलाश रही थी.

पुलिस ने इस केस में आरोपी पत्नी समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया है पुलिस ने इस केस में आरोपी पत्नी समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया है
स्टोरी हाइलाइट्स
  • तीन दिन पहले मिली थी पति की लाश
  • पत्नी ही निकली पति की कातिल
  • पुलिस ने तफ्तीश के दौरान पत्नी को पकड़ा

दिल्ली पुलिस ने एक ब्लाइंड मर्डर केस की गुत्थी को सुलझाते हुए चौंकाने वाला खुलासा किया है. 3 दिन पहले पुलिस ने एक शख्स की लाश बरामद की थी. लेकिन उसके कातिल का कोई सुराग नहीं मिल रहा था. फिर ऐसा कुछ हुआ कि कत्ल का सुराग खुद ही पुलिस तक पहुंच गया. इस केस में कातिल कोई नहीं बल्कि उस मृतक की पत्नी निकली. जिसने अपने प्रेमी के साथ मिलकर इस संगीन वारदात को अंजाम दिया था. 

दिल्ली के मुनिरका इलाके में 32 साल का वसी अहमद अपनी पत्नी के साथ रहता था. बीती 5 अप्रैल को पुलिस ने वसी की लाश समयपुर बादली इलाके से बरामद की. अब पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई. पुलिस की टीम लाश बरामद करने के बाद कातिल का सुराग तलाश करने के लिए उसी इलाके में छानबीन कर रही थी. ताकि कातिल तक पहुंचा जा सके.

समयपुर बादली थाने के एसएचओ आशीष दुबे के मुताबिक जब उनकी टीम मौका-ए-वारदात पर सबूत जुटा रही थी. तभी वहां एक महिला संदिग्ध हालत में इधर-उधर घूमती नजर आई. पुलिस ने उस महिला को रोककर पूछताछ की. लेकिन उसकी बातचीत कुछ अटपटी लग रही थी. पुलिस ने उस महिला से सख्ती से पूछताछ की तो एक चौंकाने वाला खुलासा हुआ. जिसने इस पूरे मामले को सुलझा दिया. 

दरअसल, वो महिला कोई और नहीं बल्कि मृतक वसी अहमद की पत्नी गुलफिशा थी. वे दोनों ही साउथ दिल्ली के मसाज पार्लर में काम करते थे. एक दिन गुलफिशा की मुलाकात मुकेश नामक एक शख्स से हुई. दोनों की दोस्ती हो गई. फिर वे दोनों एक दूसरे के नजदीक आ गए. इतने नजदीक कि दोनों ने मिलकर वसी को रास्ते से हटाने का फैसला कर लिया. क्योंकि उन दोनों के बीच में वही एक बाधा बन रहा था. 

आउटर नार्थ दिल्ली के डीसीपी राजीव रंजन ने बताया कि 4 अप्रैल को गुलफिशा और मुकेश ने साउथ दिल्ली के महिपालपुर में एक होटल में 2 कमरे लिए थे. एक कमरे में गुलफिशा अपने पति वसी के साथ ठहरी थी. जबकि दूसरे कमरे में मुकेश अपने साथियों के साथ मौजूद था. उसी दौरान गुलफिशा ने वसी को खूब शराब पिलाई. जब वसी नशे में धुत हो गया. तब गुलफिशा ने मुकेश को वहां बुलाया. 

मुकेश अपने साथियों के साथ उनके कमरे में पहुंचा और सबने मिलकर वसी का कत्ल कर दिया. कत्ल के लिए आरोपियों ने पत्थर और धारदार हथियार का इस्तेमाल किया. इसके बाद उन लोगों ने किसी तरह से लाश को होटल से बाहर निकाला और उसे समयपुर बादली इलाके में फेंककर फरार हो गए. अगले दिन पुलिस ने वसी की लाश बरामद कर ली.

मंडावली में गोली मारकर युवक की हत्या

पूर्वी दिल्ली के मंडावली इलाके में गुरुवार की शाम बाइक सवार बदमाशों ने गोली मारकर एक युवक की हत्या कर दी. मृतक की शिनाख्त 23 साल के मोहम्मद फरमान के रूप में हुई है. बताया जाता है कि तीन बाइक पर सवार करीब आधा दर्जन बदमाशों ने फरमान को नजदीक से गोली मारी. वारदात के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए. सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल फरमान को एलबीएस अस्पताल पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवा दिया.

मोहम्मद फरमान (फाइल फोटो)
मोहम्मद फरमान (फाइल फोटो)

पुलिस के मुताबिक वेलकम इलाके में अपने परिवार के साथ रहने वाला फरमान इलाके का घोषित बदमाश था. पुलिस फरमान की हत्या के मामले की रंजिश और अन्य एंगल से भी जांच कर रही है. घटना शाम करीब 7 बजे की बताई जा रही है. फरमान किसी काम से मंडावली गया था. अचानक तीन बाइक पर सवार करीब आधा दर्जन बदमाशों ने उसे घेर लिया. बदमाशों ने पिस्टल निकालकर उसपर फायर झोंक दिया. फरमान को चार गोलियां लगीं. मौके पर अफरा-तफरी मच गई. वारदात के बाद बदमाश बड़े ही आराम से भाग निकले. आसपास मौजूद लोगों ने घटना की जानकारी पुलिस को दी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें