scorecardresearch
 
पुलिस एंड इंटेलिजेंस

मैट्रिमोनियल साइट पर खुद को गूगल का HR मैनेजर बताया, 50 से ज्यादा लड़कियों का किया शारीरिक शोषण

 साइबल सेल के हत्थे चढ़ा आरोपी
  • 1/5

अहमदाबाद साइबर क्राइम ब्रांच ने एक ऐसे शातिर ठग को गिरफ्तार किया है, जिसने अब तक 50 से ज्यादा लड़कियों के साथ पैसों की धोखाधड़ी की और कई लड़कियों के साथ शारीरिक शोषण भी किया. पुलिस का कहना है कि ये ठग खुद को इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट (आईआईएम) अहमदाबाद का पास आउट बताता था. उसने मैट्रिमोनियल साइट्स पर अलग-अलग नाम से आईडी बना रखी थी और खुद को गूगल का एचआर मैनेजर बताकर बड़े घरों की लड़कियों को ठगी का शिकार बनाता था. 

(फोटो आजतक)

साइबल सेल के हत्थे चढ़ा आरोपी
  • 2/5

जब इस पूरे मामले की जांच की गई तो पता चला कि इस शख्स ने अलग-अलग नामों से खुद को अलग-अलग मैट्रीमोनियल वेबसाइट पर खुद को गूगल का एचआर मैनेजर के तौर पर रजिस्टर करवा रखा था.  इतना ही नहीं, वह हर वेबसाइट पर खुद की  तनख्वाह सालाना 4000000 बता कर रखी थी. इसके अलावा इसने आईआईएम अहमदाबाद से एमबीए होने का दावा भी किया था और इसकी फर्जी डिग्री भी बना रखी थी.

साइबल सेल के हत्थे चढ़ा आरोपी
  • 3/5

आरोपी लड़कियों को भरोसे में लेकर उनके साथ शारीरिक संबंध बना पैसे लूट गायब हो जाता था. आरोप है कि उसने 50 से अधिक लड़कियों को ठगी का शिकार बनाया है. एक युवती की शिकायत पर अहमदाबाद पुलिस की साइबर सेल ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने बताया कि उसका असली नाम संदीप शंभुनाथ मिश्रा है. इसने मैट्रिमोनियल साइट्स पर विहान शर्मा, प्रतीक शर्मा, आकाश शर्मा जैसे कई नामों ने अपनी प्रोफाइल बना रखी थी. 

साइबल सेल के हत्थे चढ़ा आरोपी
  • 4/5

आरोपी हाई प्रोफाइल लड़कियों से संपर्क में आता था, फिर अपने परिवार की मां, बहन और पिता की तस्वीर को दिखाकर उनका विश्वास जीत लेता था. पुलिस ने इसके पास से 30 से ज्यादा सिम कार्ड, 4 फोन, फेक आईडी बरामद किए हैं. इस शख्स ने अहमदाबाद उज्जैन, ग्वालियर, गोवा, छत्तीसगढ़ समेत कई राज्यों में लड़कियों को अपना शिकार बनाया है.

साइबल सेल के हत्थे चढ़ा आरोपी
  • 5/5

पिछले साल अहमदाबाद की एक 28 साल की युवती भी इसके झांसे में आकर शारीरिक शोषण और ठगी का शिकार हो गई थी. संदीप ने अहमदाबाद की युवती के साथ शारीरिक संबंध बनाए और फिर उसके पैसे लेकर गायब हो गया. ठगी का शिकार हुई युवती ने अहमदाबाद पुलिस से संपर्क कर शिकायत की. पुलिस नवंबर 2020 से ही आरोपी की तलाश कर रही थी.