scorecardresearch
 

सहारनपुर पत्रकार मर्डर केस: चार बहनों के अकेले भाई थे सुधीर, बर्बर हत्या से सदमे में परिवार

सहारनपुर में पत्रकार मर्डर केस में बड़ा खुलासा हुआ है. पहले पत्रकार सुधीर सैनी के साथ गाली-गलौज की गई और फिर आरोपियों ने दिनदहाड़े मारना शुरू कर दिया. वहां से गुजर रहे लोगों ने भी उसे नहीं बचाया.

X
पत्रकार सुधीर सैनी की हत्या में शामिल जहांगीर और फरमान को गिरफ्तार किया गया पत्रकार सुधीर सैनी की हत्या में शामिल जहांगीर और फरमान को गिरफ्तार किया गया
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पत्रकार सुधीर सैनी की पीट-पीटकर हत्या
  • दो आरोपी गिरफ्तार, एक फरार, तलाश जारी

सहारनपुर में रोडरेज के दौरान पत्रकार के कत्ल का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. दरअसल, कत्ल के आरोप में जिन दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है, उन्होंने खुलासा किया है कि जिस वक्त यह वारदात हुई उस समय कार में 3 लोग सवार थे. थाना कोतवाली इलाके में इन तीनों का ऑल्टो कार से ओवरटेकिंग को लेकर सुधीर सैनी के बीच विवाद शुरू हुआ था, जिसके बाद इन्होंने सुशील सैनी की जमकर पिटाई की, जिसमें पत्रकार की मौत हो गई.

4 बहनों के इकलौते भाई थे सुधीर

सुधीर सैनी का परिवार मूलत: कांधला शामली का रहने वाला है और करीब 20 साल पहले सुधीर का परिवार चिलकाना कस्बे में रहने लगा था. सुधीर की चार बहने हैं, जिनकी शादियां हो चुकी हैं. सुधीर शादीशुदा है, लेकिन उसकी कोई संतान नहीं है. जानकारी यह भी मिली है कि सुधीर के माता-पिता रोजमर्रा का कामकाज करके अपना घर परिवार चलाते हैं.

पहले गाली-गलौज फिर मारपीट 

प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो 26 जनवरी की दोपहर करीब 12 बजे सुधीर सैनी बाइक से सहारनपुर आये थे. करीब डेढ़ बजे बाइक से ही सहारनपुर से वापस चिलकाना लौट रहे थे, जिस समय वह देहात कोतवाली क्षेत्र के गांव धतौली के पास पहुंचे तो अचानक पीछे से आए कार सवार चार से पांच युवकों ने उनकी बाइक को ओवरटेक करके रोक लिया. पहले पत्रकार सुधीर सैनी के साथ गाली-गलौज की और फिर दिनदहाड़े मारना शुरू कर दिया. वहां से गुजर रहे लोगों ने भी उन्हें नहीं बचाया. उनके सिर, सीने और पेट में गंभीर चोटें आई हैं. जब वे बेहोश हो गए तो कार सवार युवकों ने उन्हें सड़क किनारे एक गड्ढे में फेंक दिया. गड्ढे में पानी भरा होने के कारण सुधीर सैनी डूब गए.

पुलिस ने क़त्ल के इस मामले में जहांगीर और फरमान नाम के दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. आरोपी जिस कार में सवार थे, वह भी बरामद कर ली गई है. दोनों ही आरोपी चिल्काना सहारनपुर के रहने वाले हैं, जबकि तीसरा आरोपी मन्नान भी चिलकाना का ही रहने वाला है जो फिलहाल फरार बताया जा रहा है. पुलिस सूत्रों की मानें तो जहांगीर पेशे से माली है जबकि फरमान एक पेंटर है.

तीसरे आरोपी की गिरफ्तारी जल्द: SSP

सहारनपुर एसएसपी आकाश तोमर ने बताया कि यह मामला सीधे तौर पर रोडरेज का है, इसमें किसी भी तरह की पुरानी रंजिश का मामला सामने नहीं आया है, फिर भी अगर परिवार कोई आशंका जताता है तो उस विषय पर भी जांच की जाएगी. एसएसपी आकाश तोमर का कहना है कि जल्द ही तीसरे आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें