scorecardresearch
 

बिजनौरः प्रेमिका के साथ आपत्तिजनक हालत में पकड़ा गया युवक, जूतों की माला पहनाकर गांव में घुमाया

बिजनौर के गांव बिंजाहेड़ी में रहने वाले एक युवक का पड़ोस में रहने वाली युवती से प्रेम प्रसंग चल रहा था. 22 जून की रात युवक और युवती दोनों आपत्तिजनक हालत में पकड़े गए. इस बात पर रात में जमकर हंगामा हुआ.

X
पुलिस ने इस मामले में 3 लोगों को गिरफ्तार किया है पुलिस ने इस मामले में 3 लोगों को गिरफ्तार किया है
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बिरादरी की पंचायत ने सुनाया तुगलकी फरमान
  • युवक और उसके भाई को पहनाई जूतों की माला
  • पूरे गांव में घुमाया और बनाया वीडियो

उत्तर प्रदेश के बिजनौर जिले में एक युवक अपनी प्रेमिका के साथ आपत्तिजनक हालत में पकड़ा गया. इसके बाद गांव की पंचायत ने सार्वजनिक रूप से युवक और उसके परिवार को अपमानित किया. उन्हें जूतों की माला पहनाकर पूरे गांव में घुमाया. जानकारी के मिलने बाद भी पुलिस इस मामले को दबाने की कोशिश करती रही लेकिन वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर 3 लोगों गिरफ्तार कर लिया है.

मामला बिजनौर के नगीना इलाके का है. जहां गांव बिंजाहेड़ी में रहने वाले एक युवक का पड़ोस में रहने वाली युवती से प्रेम प्रसंग चल रहा था. 22 जून की रात युवक और युवती दोनों आपत्तिजनक हालत में पकड़े गए. इस बात पर रात में जमकर हंगामा हुआ. लड़की के परिजनों ने अगले दिन यानी 23 जून को बिरादरी की पंचायत बुलाई. जिसमें पंचायत के दौरान लड़के के परिजनों को सार्वजनिक रूप से अपमानित किया गया. 

फिर इस मामले में लड़के की गलती बताते हुए पंचायत और लड़की के परिजनों ने आरोपी लड़के और उसके बड़े भाई को जूतों की माला पहनाने और गांव में घुमाने की सजा सुना दी. पंचायत के इस फरमान पर दोनों भाइयों को जूतों की माला पहनाई गई और गांव में घुमाया गया. बकायदा उनका वीडियो बनाया गया और फोटो खींचे गए. 

इसे भी पढ़ें-- पुल‍िस चौकी से चोरी हो गईं बंदूकें और कारतूस, मालखाने का ताला तोड़कर की गई वारदात

हैरानी की बात ये है कि ये मामला पुलिस की जानकारी में भी आ गया. लेकिन 2 दिन तक पुलिस इस मामले को दबाने की कोशिश करती रही. लेकिन पंचायत में युवक और उसके भाई को जूतों की माला पहनाने और मारपीट करने का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस हरकत में आई. पुलिस ने अब पीड़ित युवक की तरफ से पंचायत में शामिल लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. अभी तक इस मामले में केवल 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. 

ज़रूर सुनें-- डेल्टा और डेल्टा प्लस वेरिएंट्स से कैसे निपटेगा भारत? 

जबकि पीड़ितों को जूतों की माला पहनाने का यह वीडियो लगातार वायरल हो रहा है. बिजनौर जनपद में यह पूरी तरह चर्चा का विषय बना हुआ है कि पुलिस ने पूरी घटना को दबाते हुए इसे केवल समझौते के नाम पर मारपीट और अपमानित करने का मामला माना है और औपचारिकता पूरी करने के लिए एफआईआर दर्ज कर ली है. लोग इसे कार्रवाई के नाम पर खानापूर्ति बता रहे हैं. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें